हर लड़की को अपने बालों से बहुत प्यार होता है. अपने बालों को कटवाना और तरह-तरह के स्टाइल बनाना तो आम बात है. लेकिन गुरुग्राम की दो बहनें, इलाक्षी और समाइरा ने अपने बाल किसी स्टाइल के चलते नहीं बल्कि कैंसर पीड़ितों को दान देने के लिए कटवाए हैं.

girls donating hair

इलाक्षी कक्षा 6 में पढ़ती है तो वही समाइरा कक्षा 3 में. इन दो नन्हीं लड़कियों ने इतनी छोटी सी उम्र में वो कर दिखाया है जो हर कोई नहीं कर सकता है.

इलाक्षी ने एक कैंसर पीड़िता का वीडियो देखा था. उस वीडियो में कीमोथेरेपी की वजह से उस लड़की के सारे बाल झड़ गए थे. जिसकी वजह से उसके दोस्तों ने उसे एक विग गिफ्ट की थी. विग देख उस लड़की की ख़ुशी ने ही इलाक्षी और उसकी बहन को अपने बाल दान करने के लिए प्रेरित किया.

Cynthia with her daughters Elakshi and Samaira

बाल कटवाने के अपने अनुभव को The Better India के साथ बांटते हुए समाइरा बताती है, "मैंने अपने आठ इंच लम्बे बाल कटवाए. हालांकि, मैं ये सोच रही थी कि क्या बाल कटने के बाद में अज़ीब लगूंगी? ऐसे में मेरी मां मेरा सहारा बनीं और उन्होंने मेरी बहुत मदद की."

वहीं दूसरी ओर इलाक्षी बताती है, 'एक तरफ तो मैं अपने बाल दान देकर दूसरे के चेहरों पर मुस्कान लाना चाहती थी वहीं दूसरी ओर मुझे बहुत डर भी लग रहा था. मैं अपने दोस्तों की प्रतिक्रिया के बारे में सोचती रही. मेरी मां बार-बार मुझे बता रही थी कि ये काम कर के मुझे कितनी दुआएं मिलेगी और मुझे लगता है मां कि इस बात ने मेरी बहुत मदद की.'

hairs

दोनों लड़कियों ने अपने बाल कटवा कर उन को सुरक्षित मुंबई भेज दिया.

इलाक्षी और समाइरा का ये कदम उठाने का मकसद बस एक ही था-दूसरों के चेहरे पर हंसी. दोनों बहनों को पता था कि ये किसी और की ख़ुशी के लिए कितना ज़रूरी है. अगर आपने भी कभी किसी के लिए ऐसा कुछ किया है तो हमें कमेंट कर ज़रूर बताइए.