अगर आप क्रिकेट को तब से देख रहे हैं, जब भारत ने 2003 में सौरव गांगुली के नेतृत्व में फ़ाइनल खेला था, तो आप हेनरी ओलंगा को जानते होंगे. अगर नए क्रिकेट फ़ैन हैं तो हेनरी ओलंगा के बारे में पहले कुछ बताना होगा.

Source: News18

हेनरी ओलंगा ज़िम्बाब्वे के तेज़ गेंदबाज़ हुआ करते थे, वो तब ज़िम्बाब्वे के पहले अश्वेत खिलाड़ी थे और अपने समय के सबसे कम उम्र के ज़िम्बाब्वे के खिलाड़ी. भारत वाले उन्हें सचिन के साथ हुए पंगे के लिए ज़्यादा जानते थे और 1999 के वर्ल्ड कप में हेनरी की गेंदबाज़ी की वजह से भारत जीता हुआ मैच हार गया था.

Source: News18

हेनरी की पहचान तेज़ रफ़्तार गेंदबाज़ के तौर पर भी थी लेकिन वो अक्सर अपनी लाइन लेंथ से भटक जाया करते थे. उनके बॉलिंग एक्शन पर प्रतिबंध भी लगाया गया था.

हेनरी की पहचान तेज़ रफ़्तार गेंदबाज़ के तौर पर भी थी लेकिन वो अक्सर अपनी लाइन लेंथ से भटक जाया करते थे. उनके बॉलिंग एक्शन पर प्रतिबंध भी लगाया गया था.

Source: News18

अचानक से हेनरी ओलंगा की बात इसलिए छिड़ी क्योंकि वो भी अचानक से ऑस्ट्रेलिया के चैनल 9 पर आने वाले शो The Voice में प्रतियोगी बन कर आए और अपनी आवाज़ से Judges का दिल जीत लिया.

हेनरी ओलंगा ने This Is The Moment गाना गाया, जो सभी को पसंद आया और वो अगले राउंड के लिए चुन लिए गए.

42 साल के हेनरी ने बताया कि वो 2004 से गाने की प्रतिभा पर काम कर रहे थे. इससे पहले वो साल 2006 में ब्रिटेन का शो The All Star Talent Show भी जीत चुके हैं

हेनरी ओलंगा का गाना इंटरनेट पर भी सबको चौंका गया, ऑस्ट्रेलिया में भी क्रिकेट फ़ेमस है इसलिए वहां के लोग हेनरी को एक क्रिकेटर को तौर पर भी जानते हैं.