सूट-टाई लगाए

लैपटॉप उठाये

मेट्रो-बसों के धक्के खाये

बेबस, असहाय…

Welcome to the World of Modern मज़दूर

hswstatic

ये वो हैं, जिनकी लाइफ़ साइकिल Monday और Weekend के बीच में झूलती है, ये वो हैं जिनकी Salary इन्हें Month End में भूलती है. 1 मई पूरी दुनिया में Labors’ Day के तौर पर मनाया जाता है लेकिन एक Modern मज़दूर उस दिन भी Office हाज़िर हो जाता है! 

बड़े-बड़े Offices के छोटे-छोटे Cabins में बैठे इन Modern मज़दूरों से आपको मिलवाते हैं, इनकी मजबूरी और मज़दूरी की कहानी सुनाते हैं:

1. जहां न पहुंचे रवि, वहां पहुंच जाए उसका लैपटॉप

ये आपको रात में लैपटॉप की चमक तले Excel Sheet बनाते हुए, Ideas में दिमाग़ खपाते हुए मिल जाएंगे. शादी-पार्टी में जो शख्स एक सुकून का कोना ढूंढ कर फ़ोन पर बात करता या लैपटॉप Adjust करता मिल जाए, समझ जाएं आपको Modern मज़दूर दिख गया.

2. थप्पड़ से डर नहीं लगता, Tax कटने से लगता है

यूं तो ये बड़ी बहादुर प्रजाति होती है, लेकिन टैक्स नामक राक्षस के आगे इनकी शक्तियां फ़ेल हो जाती हैं. आधी सैलरी टैक्स बचाने में लगा देते हैं, आधी चुकाने में. देश के राष्ट्रगीत की तरह इन्हें अपनी पॉलिसी रटी होती हैं कि किस वाली से इन्हें कब और कितना फ़ायदा मिलेगा.

3. छुट्टी की अर्ज़ियां सारी मैं चेहरे पर लिख कर लाया हूं

भारत का प्लानिंग कमीशन भी उस तरह से अपना बजट Plan नहीं करता, जितना पहले ये अपनी छुट्टियां Plan कर लेते हैं. इन्हें पता होता है कि साल में कितने Long Weekends आएंगे और ये कहां जाएंगे. बिना प्लान किये तो ये बीमार भी नहीं हो सकते.

4. कमाई इन EMI

जैसे ही बेचारे सैलरी अकाउंट में आने का ग़म मनाते हैं, वैसे ही Salary को EMI की नज़र लग जाती है. राजा से इनका बाजा बजते देर नहीं लगती.

5. दौड़ते-भागते परिंदे

सुबह 9-10 बजे अगर आपको बस स्टैंड, मेट्रो स्टेशन, टैम्पो स्टैंड के सामने परेड करते लोगों की भीड़ दिखे, समझ जाना, Modern मज़दूर हैं. रेड लाइट एक मिनट से ज़्यादा होते ही इधर इनके हाथ-पैर फूलने लगते हैं, उधर इनकी सैलरी से पैसे कटते हैं. सीढ़ियों पर हांफते-भागते, लिफ़्ट के लिए दौड़ लगाते इन जंतुओं की आधी लाइफ़ यूं ही निकल जाती है.

6. Appraisal का महीना, Boss मचाये शोर

b’Source: Getzkid’

कोई आपसे कहे कि आपने साल भर में जो काम किया, वो एक महीने में कर के दिखाईये, तो कैसा लगेगा? कुछ ऐसा ही लगता है इन्हें जब Appraisal के महीने बॉस पूछ लेता है कि तुमने कंपनी के लिए किया ही क्या है?

7. बॉस का फ़ोन आया

ये घरवालों का, दोस्तों का कॉल मिस कर देंगे, लेकिन बॉस का कॉल मिस करने की ग़लती नहीं करते. बॉस कहेगा कि आधी पार्टी से उठ कर ऑफ़िस आओ, तो ये बिना पूछे चल देंगे, लेकिन न नहीं कहेंगे.

देख लिए कितने दुःख हैं इनकी ज़िन्दगी में… और आप सोच रहे थे कि आपकी पानी की मोटर का न चलना दुनिया की सबसे बड़ी परेशानी है!