ये है दुनिया का सबसे ताकतवर टेलीस्कोप और अंतरिक्ष का सबसे बेहतरीन फ़ोटोग्राफ़र हबल टेलीस्कोप. इस टेलीस्कोप को 30 साल पहले अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी 'नासा' और यूरोपीयन स्पेस एजेंसी 'ईएसए' ने मिलकर बनाया था, लेकिन इसका इस्तेमाल नासा कर रही है. पिछले 30 सालों में 'हबल टेलीस्कोप' ने हमें अंतरिक्ष की गहराइयों से कई शानदार तस्वीरें भेजी और कई रहस्यों से पर्दा भी उठाया. 

हबल टेलीस्कोप के अंदर 5 वैज्ञानिक इंस्ट्रूमेंट्स हैं. साथ ही गाइडेंस सेंसर्स भी लगे हुए हैं. हबल धरती के ऊपर अंडाकार ऑर्बिट में घूमता है. सबसे नज़दीकी दूरी 537 किलोमीटर और सबसे ज़्यादा दूरी क़रीब 541 किलोमीटर होती है. इस टेलीस्कोप की अब तक 5 बार सर्विसिंग की गई है. ये इकलौता टेलीस्कोप है जिसे ठीक करने या अपग्रेड करने के लिए धरती से एस्ट्रोनॉट्स को जाना पड़ता है. 

Source: nasa

हबल टेलीस्कोप की मदद से पता चला है कि, यूनिवर्स की उम्र 13.7 बिलियन साल है. हबल ने साल 2019 में हमारी 'आकाशगंगा' का वजन क़रीब 1.5 ट्रिलियन सोलर यूनिट और रेडियस 129,000 प्रकाश वर्ष बताया था. हबल ने प्लूटो के चांद, शनि के दक्षिणी ध्रुव पर अरोरा लाइट्स, बृहस्पति ग्रह के चांद आदि की खोज भी की है. साथ ही कई ब्लैक होल्स, सैकड़ों गैलेक्सी और हज़ारों नेबुला की तस्वीरें भी ली हैं, जिससे इंसानों को ये पता चल पाया है कि अंतरिक्ष कितना बड़ा है.

Source: designboom

आइए देखते हैं 'हबल टेलीस्कोप' द्वारा ली गई 15 शानदार तस्वीरें- 

1- इस तस्वीर में 'साउर्दन क्रैब नेबुला' दिख रहा है. ये तस्वीर 'हबल टेलीस्कोप' ने साल 2019 में कैप्चर की थी. 

Source: intoday

2- साल 2017 में ली गई इस तस्वीर में आप 'NGC 4302' और 'NGC 4298' नाम के दो आकाशगंगा देख रहे हैं. 

Source: intoday

3- इस तस्वीर में आप 'बबल नेबुला' को देख रहे हैं. इसे 'हबल टेलीस्कोप' ने साल 2016 में कैप्चर की थी.   

Source: intoday

4- तस्वीर में आप 'हॉर्सहेड नेबुला' देख रहे हैं, जिसकी तस्वीर 'हबल टेलीस्कोप' ने 2013 में कैप्चर की थी. 

Source: intoday

5- इस तस्वीर में आप 'कोलाइडिंग गैलेक्सी' देख रहे हैं, जिसे 'हबल टेलीस्कोप' ने साल 2011 में कैप्चर की थी. 

Source: intoday

6- इस तस्वीर में आप 'मिस्टिक माउंट' देख रहे हैं, जिसे 'हबल टेलीस्कोप' ने साल 2010 में कैप्चर किया था. 

Source: intoday

7- ये तस्वीर 'हबल टेलीस्कोप' ने साल 2009 में कैप्चर की थी. इसका नाम 'इंटरेक्टिंग गैलेक्सी ग्रुप' है. 

Source: intoday

8- इस तस्वीर में आप कई इंटरेक्टिंग गैलेक्सी की कोलाज देख रहे हैं. इसे हबल ने साल 2008 में कैप्चर किया था. 

Source: intoday

9- इस तस्वीर में आप 'कोन नेबुला' देख रहे हैं, जिसकी तस्वीर हबल ने साल 2002 में कैप्चर की थी. 

Source: intoday

10- इस तस्वीर में आप 'हॉर्सहेड नेबुला' देख रहे हैं. इसे हबल टेलीस्कोप ने साल 2001 में कैप्चर किया था.  

Source: intoday

11- इस तस्वीर में आप 'NGC6751 गैलेक्सी' देख रहे हैं, जो एक चमकती आंख की तरह दिख रही है. इसे हबल ने 2000 में कैप्चर किया था. 

Source: intoday

12- साल 1999 में 'हबल टेलीस्कोप' ने जब बृहस्पति ग्रह में दो चंद्रमा की तस्वीर कैप्चर की थी, तो दुनिया दंग रह गयी थी. 

Source: intoday

13- साल 1998 में 'हबल टेलीस्कोप' ने शनि ग्रह की एक ख़ूबसूरत इंफ़्रारेड तस्वीर कैप्चर की थी. 

Source: intoday

14- इस तस्वीर में आप 'M 2-9 ट्विन जेट नेबुला' देख रहे हैं, जिसे हबल ने साल 1997 में कैप्चर किया था. 

Source: intoday

15- इस तस्वीर में आप साल 1995 में हबल द्वारा कैप्चर किया गया 'ईगल नेबुला पिलर्स' देख रहे हैं. 

Source: intoday

हबल ने यूनिवर्स की उम्र कापता लगाने में वैज्ञानिकों की काफ़ी मदद की है. हबल की मदद से साइंटिस्ट्स को ये भी पता चला है कि हमारा यूनिवर्स फ़ैल रहा है. इसके लिए एक 'सुपरनोवा' सर्च टीम बनाई गई है. हबल की मदद से जिन वैज्ञानिकों ने इस बात का खुलासा किया कि यूनिवर्स अपना आकार बढ़ा रहा है, उन्हें 'नोबेल पुरस्कार' से नवाजा गया था.