उन्हें जिन्हें हम बड़ा ब्रैंड कहते हैं, वो भी कभी-कभी ऐसी टुच्ची हरकत कर देते हैं कि क्या बताएं. दूसरे आर्टिस्ट का डिज़ाइन चुरा लेना, दूसरे ब्रांड की कॉपी करना और किसी कल्चर से इंस्पायर होना, लेकिन उसे क्रेडिट नहीं देना. ये सभी काम तथा कथित बड़े ब्रांड धड़ल्ले से करते हैं. हालिया उदाहरण है Dior का, इस ब्रैंड ने पिछले साल अपने कपड़ों के कुछ डिज़ाइन बाज़ार में उतारे, लोगों की वाह-वाही बटोरी, लेकिन ये नहीं बताया कि ये ड़िजाइन कहां से प्रेरित (चुराया) है.

bihorcouture

रोमानियन इलाके में एक गांव है Bihor. वहां की स्थानीय कला बेहद समृद्ध है. Bihor के लोग जो कपड़े पहनते हैं या बनाते हैं, वो बहुत ख़ूबसूरत होते हैं. ये कपड़े उनकी पहचान का हिस्सा हैं. Dior ने उन कपड़ों को अपना डिज़ाइन बता कर बेचना शुरू कर दिया. जो कपड़ा Bihor में कम पैसों में मिल जाता है, Dior उसे तीस हज़ार यूरो में बेचने लगा. सीनाज़ोरी ये कि Dior ने इस डिज़ाइन के लिए Bihor को क्रेडिट भी नहीं दिया.

mirceacantor

आप ख़ुद भी देख सकते हैं कि Dior ने जो किया, उसे प्रेरणा नहीं कहा जा सकता. ये साफ़ तौर पर चोरी ही कही जाएगी.

vogue

इससे लड़ने के लिए एक रोमानियन फ़ैशन मैगज़ीन, Beau Monde ने Dior के ख़िलाफ़ कमाल का कैंपेन छेड़ दिया.

bihorcouture

Bihor के लोगों की मदद से Beau Monde ने Bihor Couture के नाम से एक नया फ़ैशन लाईन तैयार की और एक वेबसाइट बना दी, जहां से ये कपड़े ख़रीदे जा सकें.

अब लोग असली Bihor के कपड़े वहां के लोगों से सीधे तौर पर बहुत कम दाम में ख़रीदने लगे और इसका मुनाफ़ा सीधे-सीधे उसे बनाने वालों को जाने लगा.

terrabeiusensis

सोशल मीडिया ने Beau Monde की इस पहल को खू़ब सराहा और Dior को कोसा.

बड़े ब्रैंडस बहुत बेशर्मी से ऐसा पहले भी करते रहे हैं. इसके लिए इन्हें आलोचना भी सुननी पड़ी है लेकिन शायद ही कभी इन्हें अपने किए पर पछतावा हो. अगर पछतावा होता, तो ये सिलसिला कहीं न कहीं जा कर रुकता.

ये हैं इन बड़े ब्रैंडस की कुछ पुरानी कु-कृतियां:

gettyimages

इस डिजिटल ज़माने में भी ये इस गफ़लत में हैं कि इनकी चोरी पकड़ी नहीं जाएगी.