बचपन में हम कई चीज़ों को बस यूं ही इस्तेमाल कर लेते थे. चाहे वो घर की छोटी सी छोटी चीज़ हो या खेलने-कूदने की चीज़. असल आटे-दाल का भाव तो बड़े होने पर पता चला जब वो सारी चीज़ें हमें ख़ुद ख़रीदनी पड़ीं.


रेडिट पर यही सवाल किसी ने किया और कुछ बेहद अतरंगी जवाब मिले. हमने भी अपने साथियों से पूछा और जो जवाब मिले वो ये हैं-

1. क्रिकेट बैट

Source: Amazon

बचपन में ख़ुशियों की चाबी थी ये और बड़े होकर दाम ने खेल ही छुड़वा दिया.

 2. तांबे के बरतन 

Source: Amazon

बचपन में क्रॉकरी अच्छी लगती थी, बड़े होकर इनका शौक़ चढ़ा तो क़ीमत ने जेब में छेद कर दिया.

3. परीक्षा फ़ॉर्म 

Source: Hindustan Times

परिक्षाएं देना तो ज़रूरी है ही पर ये फ़ॉर्म इतने महंगे क्यों होते हैं?

4. सेन्टेड कैंडल

Source: Earth

अगरबत्ती ही जला लेते हैं, दाम देखकर ये विचार आता है. 

5. लिपस्टिक

Source: Amazon

बचपन में मम्मी की लिपस्टिक काफ़ी बर्बाद किए हैं, आज ख़रीदते वक़्त बटुआ खाली हो जाता है. 

 6. बिजली वाला टेप 

Source: Wikipedia

इत्ती सी चीज़ भी इतनी महंगी हो सकती है क्या भला?

7. वीडियो गेम

Source: The New York Times

कहां 20 रुपये में मौज कर लेते थे कहां अब हज़ारों ख़र्च करने पड़ रहे हैं. 

 8. कारपेट

Source: Amazon

रोना आ गया था जब ख़रीदने गए थे. 

9. बैडमिंटन 

Source: Connected Communities

अरे भई स्पोर्ट्स की चीज़ें तो सस्ती होती होंगी, ये ग़लतफ़हमी बैडमिंटन के दाम देखकर दूर हो गई.

10. पटाखे

Source: Hindustan Times

बचपन में मज़ा और बड़े होकर बन गई सज़ा. इन्हें ख़रीदने से अच्छा है हम ग्रीन दिवाली मना लें. 

11. सोफ़ा 

Source: Amazon

बचपन में जिस पर कूदते-फांदते थे, सो जाया करते थे. बड़े होकर उसे ख़रीदने में मंथली बजट हिल गया. 

12. स्टडी लैम्प

Source: Ali Express

पापा लेकर आए थे स्टडी लैम्प, उसके नीचे पढ़ने में मन लगता था. जब ख़ुद ख़रीदना पड़ा तो लगा कि दिन में ही पढ़ाई कर लेंगे. 

 13. कैरम बोर्ड

Source: Amazon

बचपन का साथी बड़े होकर यूं महंगा होगा किसने सोचा था?

 14. सिगरेट 

Source: Asbestos

ये पहले तो इतनी महंगी नहीं आती थी, अब साल दर साल दाम बढ़ रहे हैं. 

15. काजू किशमिश बादाम 

Source: First Cry

बचपन में मम्मी के जबरन खिलाने पर नहीं खाते थे, अब ख़रीदकर खाने में सोचते हैं, महंगे ही इतने हैं. 

16. केक 

Source: BBC

जिसे बचपन में रज कर खाते थे वो जब ख़रीदना पड़ा तो बात समझ आई कि लिपने से मना क्यों किया जाता था. 

17. बिस्तर-तकिया

Source: Royal Oak India

4-4 तकिए लेकर सोने वाले बच्चों को जब ख़ुद का बिस्तर लेना पड़ा तो दाम का सोचकर ही नींद उड़ गई. 

18. ब्रा

Source: Cash Karo

न जाने कब ब्रा की क़ीमत कम होंगी और महिलाओं के थोड़े पैसे बचेंगे. 

19. दरवाज़े के हैंडल

Source: Collins Dictionary

इनके दाम को देखकर पता चलता है कि आख़िर घर बनवाने में लोगों की जीवनभर की कमाई क्यों लग जाती है. 

20. Pets रखना

Source: Blogs

खाना, वेट, साफ़-सफ़ाई, ख़र्च ही ख़र्च है.