दुनिया ने अब तक कई त्रासदियों का सामना किया है. प्राकृतिक आपदाएं तो हमारे नियंत्रण के बाहर हैं पर हम इंसानों ने ही इंसानों का ख़ात्मा किया है. इतिहास गवाह है अपने मतलब के लिए सिर्फ़ एक शख़्स ने लाखों ज़िन्दगियां बर्बाद की हैं.


इतिहास के पन्ने पलटेंगे तो हमें ख़ून से लतपथ धरती और चीखों से गूंज रहा आसमान दिखेगा. कुछ लोगों के ग़लत निर्णयों ने हंसती-खेलती पृथ्वी को श्मशान बना दिया.  

आज बात करेंगे मानव इतिहास के कुछ खूंखार इंसानों के बारे में-

1. Genghis Khan (1162-1227)

Source: Adam Smith

चंगेज़ ख़ान ने मंगोल पर 1206 से 1227 के बीच राज किया. उसकी ख़ून की प्यासी नीयत की वजह से चीन के असंख्य लोग मार गए. कहते हैं कि अगर उसके आदमियों को पानी की कमी पड़ती तो वो अपने घोड़ों का ख़ून पी लेते. इरान के पठारी क्षेत्र में उसने लगभग 15 मिलियन लोगों को मार डाला. चंगेज़ ख़ान के राज में 20 से 60 मिलियन लोगों के मारे जाने का अनुमान है. 

2. Vlad the Impaler (1431-1476/77)

Source: Wikipedia

Vlad the Impaler को Vlad Dracula भी कहा जाता है. Vlad ने 1448 से 1462 के बीच Wallachia पर राज किया और अपने राज के दौरान उसने 20% जनसंख्या का सफ़ाया कर दिया. कहते हैं कि वो बच्चों को पकाकर, उनकी मां को खिलाता था. पत्नी के स्तन काटकर पति को खिलाता था. इसके बाद वो पूरे परिवार के साथ Impalement (Bum से नुकीली चीज़ घुसाकर मुंह से निकालना) करता था. 

3. Ivan the Terrible (1530-1584)

Source: Liden & Denz

रूस का पहला ज़ार था Ivan. बचपन में वो जानवरों को ऊंची इमारतों से नीचे फेंकता था. वो बुद्धिमान था पर मानसिक तौर पर बीमार होने की वजह से उसका ग़ुस्सा बेक़ाबू था. उसने ग़ुस्से में अपने ही उत्तराधिकारी को मार डाला. उसे Impaling (Bum में नुकीली चीज़ घुसाकर मुंह से निकालना), सिर कलम करना, तलना, अंधा करना, अंतड़ियां निकालने का शौक़ था. उसे दोस्तों में भी दुश्मन नज़र आते थे. Novgorod कत्लेआम के दौरान उसने 60,000 लोगों को तड़पा-तड़पाकर मारा था. 

4. Leopold the IInd of Belgium (1835-1909) 

Source: Wikipedia

Leopold ने पूरी दुनिया को यक़ीन दिलाया कि वो कॉन्गो की मदद करना चाहता है. उसने कॉन्गो फ़्री स्टेट पर राज्य किया जो बेल्जियम से लगभग 76 गुना बड़ा था. 1885-1908 के बीच उसके राज्य के दौरान पूरा देश दहशत में था. उसके राज में हज़ारों लोग बीमारियों के कारण मारे गए. पैसा और पावर के लिए उसने 10 मिलियन कॉन्गो निवासियों को मार डाला यानि उसने लगभग कॉन्गो की आधी आबादी मिटा दी. 

5. Joseph Stalin (1878-1953)

Source: Pulse

Joseph Vissarionovich Stalin, 1933 से 1953 तक सोवियत यूनियन का तानाशाह था. जवानी के दिनों में वो लूट-पाट और हत्या जैसे अपराधों को अंजाम देता था. उसने डर और ख़ौफ़ बनाकर 30 सालों तक सोवियत यूनियन पर राज किया. उसके फ़ैसलों की वजह से सूखा पड़ा, भुखमरी फैली और लाखों लोगों की जान गई. स्टालिन के राज में लगभग 1.5 मिलियन सोवियत यूनियन की महिलाओं का बलात्कार हुआ. स्टालिन को 1945 और 1948 में नोबेल पीस प्राइज़ के लिए नोमिनेट किया गया था. 

6. Adolf Hitler (1889-1945)

Source: New York Post

हिटलर, एक नाम जिससे सभी परिचित हैं. हिटलर 1933 से 1945 तक जर्मनी का चांसलर था. अगर इतिहास में कोई सबसे खूंखार, बुद्धिमान और क्रिएटिव तानाशाह पैदा हुआ है तो वो है हिटलर. द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान यहूदियों के होलोकॉस्ट के लिए वही ज़िम्मेदार था. उसका मानना था कि सभी समस्याओं की जड़ है यहूदी. हिटलर की वजह से 50 मिलियन से ज़्यादा लोग मार गए. 30 अप्रैल, 1945 को उसने आत्महत्या कर ली. 

7. Mao Zedong (1893-1976) Heinrich Himmler (1900-1945)

Source: Britannica

1943 से 1976 के बीच चीन का तानाशाह था Mao. वो चीन को सुपरपावर बनाने का सपना देखता था और ऐसा करने की राह में उसने कई लोगों की जान ले ली. चीन को मॉर्डन बनाने का श्रेय उसे दिया जाता है पर इसकी क़ीमत 40 से 70 मिलियन लोगों ने अपनी जान गंवा कर चुकाई. 

8. Heinrich Himmler (1900-1945)

Source: Associated Press

यहूदियों का आख़िर में क्या होना है, यानि यहूदियों का ख़ात्मा करना है इस फ़ैसले के पीछे Heinrich Himmler का दिमाग़ था. Himmler ने 6 मिलियन यहूदियों, 2-5 लाख रूसी और कई अन्य समुदाय के लोगों को मारने की आज्ञा दी थी, जिन्हें नाज़ी जीने के क़ाबिल नहीं समझते थे. कहा जाता है कि उसके पास यहूदियों की हड्डियों और चमड़े से बनी एक कुर्सी थी, इसका कोई प्रमाण नहीं है.  

9. Ayatollah Ruhollah Khomeini (1902-1989)

Source: Wiki Quote

1979 में हुई ईरानी क्रांति का श्रेय, Khomeini को जाता है. वो 1979 से 1989 तक ईरान का धार्मिक गुरू था. उसने शियाओं के लिए कड़े क़ानून बनाए और उनका उल्लंघन करने वालों को टॉर्चर किया जाता और मार दिया जाता. उसने इराक़ के साथ शांति स्थापित करने की सलाह पर साफ़ ना कह दिया था, इस निर्णय की वजह से 1 मिलियन लोगों की जान गई. 

10.  Kim Il Sung (1912-1994), Kim Jong-il (1941-2011) and Kim Jong-un (born 1983)

Source: Denver Post

1948 से 1972 के बीच किम जॉन्ग सुंग उत्तर कोरिया का तानाशाह था. उसने कोरियन युद्ध शुरू किया जिस वजह से 3 मिलियन कोरियन्स की मौत हो गई. कोरिया के लोगों को उसे भगवान मानने पर मजबूर किया गया. उसके बेटे, किम जॉन्ग इल ने पिता के काम को आगे बढ़ाया और उसने खूंखार क़दम उठाना जारी रखा. उत्तर कोरिया को इसके बाद मिला तानाशाह किम जॉन्ग उन. उत्तर कोरिया के लोग सालों से ख़ौफ़ में जी रहे हैं

11. Pol Pot (1925-1998)

Source: Thought Co

कंबोडिया क्रांतिकारी संगठन, Khmer Rogue का नेता था, Pol Pot. उसने कंबोडिया में नरसंहार करवाया. Pol Pot कंबोडिया की सभ्यता को ख़त्म करना चाहता था. वो अब तक का इकलौता ऐसा नेता है जिसने अपने ही देश में नरसंहार करने के आदेश दिए. वो 1976 से 1979 के बीच प्रधानमंत्री था और उसके फ़ैसलों की वजह से 2 मिलियन से ज़्यादा लोगों की जान गई. ये कंबोडिया की जनसंख्या का 25% था. वो जिन लोगों की हत्या करता उनकी खोपड़ी अपने पास रखता. वो इतना खूंखार था कि उसने बच्चों के हाथ-पैर तोड़-तोड़कर मारने के आदेश दिए थे.

12.Saddam Hussain (1937-2006)

Source: Middle East Mirror

सद्दाम हुसैन 1979 से 2003 तक इराक़ का तानाशाह था. अपने राज के दौरान उसने कई हमले करवाए. उसके उल-जुलूल पॉलिसीज़ की वजह से 2 मिलियन से ज़्यादा लोगों की जान गई. उसने केमिकल अटैक के, आंखें निकालने के, मारने के और लोगों को शॉक देने के ऑर्डर दिए. वो टॉर्चर और मौत रिकॉर्ड करता था और उन्हें बाद में देखता था. हुसैन को 2006 में फांसी हुई.

13.  Idi Amin (1952-2003)

Source: Wikia

उगांडा का चीफ़ ऑफ़ आर्मी स्टाफ़ था, Idi Amin. उगांडा का राष्ट्रपति सिंगापुर गया हुआ था और तब उसने सत्ता हथिया ली थी. उसने उगांडा में विकास के वादे किए पर वो तानाशाह निकला. उसे 'उगांडा का कसाई' कहा जाता है. वो लोगों को मारता और मगरमच्छों को खिलाता और वो ख़ुद इंसानों को खाता था. उसने अपनी एक पत्नी को काट डाला था. 1971 से 1979 के बीच उसने 0.5 मिलियन लोगों की जान ली.