मुंबई के वाशी में रहने वाली रीमा लेविस जो कि एक Physiotherapist और Pilates Trainer का काम करती हैं. उन्होंने अपने घर को सोलर प्लांट बना दिया है.

बंगलुरु में में पली-बढ़ी रीमा का प्रकृती से गहरा लगाव है. उन्होंने अपने घर को भी लगभग बागीचा बना दिया है.

Source: The Better India

शादी के बाद रीमा मुंबई में आ कर बस गईं. उन्होंने आस-पड़ोस के लोगों का इलाज़ करना शुरू किया साथ ही साथ वो अपने स्तर पर मां पृथ्वी के इलाज में जुट गईं.

The Better India को दिए साक्षात्कार में उन्होंने बताया कि कैसे उन्होंने अपने घर को सौर ऊर्जा से चलाने की ठानी थी.

साल 2010 जब मैं गर्भवती थी तब हमने नया घर ख़रिदा था और उसे Eco-Friendly बनाने का सोचा. वो हमारे होने वाले बच्चे के लिए बेहतरीन तोहफ़ा था. हमने सोलर वॉटर सिस्टम को लगाकर बाथरूम और किचन से जोड़ दिया. मेरा ये मानना है कि पृथ्वी हमारी ज़रूरतों को पूरा कर सकती है लेकिन लालच को नहीं.
Source: The Better India

चार साल पहले तक रीमा के घर का बिजली का बिल दस हज़ार तक आ जाता था और गर्मियों के मौसम में उससे भी ज़्यादा. लेकिन अब उनके घर में 5KW का सोलर सिस्टम लगा हुआ है.

Megenta Power की मदद से हमने सोलर सिस्टम लगवाया. हमारा बिजली बिल घट कर हज़ार रुपये प्रति महीना हो गया. कभी-कभी तो बिजली बिल का फ़िक्स चार्ज 300 रुपए भरा है. हमें सोलर प्लांट लगाने में 2.5 लाख का लागत आई थी. ये ऐसा था जैसे दो साल का बिजली बिल एडवांस में भर देना और जीवनभर के लिए मुफ़्त बिजली.
Source: The Better India

यहां तक की रीमा लेविस ने पेट्रोल कार छोड़ कर Electric Car को अपना लिया है, इससे भी उनकी काफ़ी बचत हो जाती है. पहले जहां उनको महीने का पट्रोल का 9 हज़ार का ख़र्चा आ जाता था, अब वो EV-Charging Unit की वजह से 500 रुपये में निपट जाता है.