काश! कोई हमें हमारे 90’s के दिन वापस लौटा दे. बरसात के पानी में कागज़ की नाव बना कर डालना, कैसेट की रील को पेन से ठीक करना, यार सच में बचपन की वो सुनहरी दिन बहुत याद आते हैं. वहीं आजकल की जनरेशन को देखने के बाद लगता है, यार इनके और हमारे समय में कितना फ़र्क है. कपड़े पहनने से लेकर, वीडियो गेम तक सब कुछ पूरी तरह से बदल चुका है, लेकिन एक बात बोलूं ज़माना चाहे कितना ही क्यों न बदल जाए 90’s का दौर बेस्ट था.

इन 31 तस्वीरों को देख कर अपना बचपन की यादें ताज़ा न हो जाएं, तो कहना :

1. कैसेट के अंदर मिलने वाले पेपर से गाने के Lyrics पढ़ना और गाना बजने पर उन्हें गुनगुनना.

redd

2. स्मार्टफ़ोन से पहले भी एक ज़िंदगी थी.

marketupdate

3. ऐसे होते थे हमारे कपड़े.

pinimg

4. सीडी में लिखे जाने वाले गाने.

cdninstagram

5. रिसर्च के लिए लाइब्रेरी जाना.

6. फ़ाइल डाउनलोड करने के लिए घंटों इंतज़ार करना.

thejournal

7. VCR में मूवी देखना.

nouvelobs

8. ख़त के ज़रिए बयां करते थे अपनी भावनाएं.

emgn

9. World Art के लिए कई Choices होना.

tipsandarticles

10. सीडी कवर में सीडी को संभाल कर रखना.

11. MTv पर म्यूज़िक सुनना.

nylon

12. पेंसिल का निप खोने पर परेशान हो जाना.

modes4u

13. पार्क में झूले से फिसलना.

imimg

14. लैंडलाइन से दोस्तों को फ़ोन करना और घंटों बात करना.

Quickanddirtytips

15. बॉटम जींस पहन कर टशन दिखाना.

16. नोकिया-1110 में भी ख़ुश रहना.

ytimg

17. स्टिकर का कलेक्शन रखना.

photobucket

18. डेक पर गाने बजा कर डीजे बनना.

tinypic

19. कॉमिक्स के साथ बबल गम मिलना.

Retroland

20. पेसिंल में लगी कलर रबर को सूंघना.

21. बिना रिमोट वाला टीवी.

Awwproject

22. टेलीफ़ोन का तार सुलझाना.

slowrobot

23. बोतल कैप के अंदर विनिंग प्राइज़ जानने की एक्साइटमेंट.

hdnux

24. मैप के ज़रिये रास्ता पता करना.

Staticflickr

25. Crayons color से ड्रॉइंग करना.

26. बची हुई पेंसिल को पेन कैप में लगा कर यूज़ करना.

Pinterest

27. डे-नाइट गेम में गुम हो जाना.

Pinimg

28. मारियो गेम का मज़ा लेना.

Hindustantimes

29. अपने क्रश के बारे में जानने की चाह रखना.

marketersbraintrust

30. ये टॉफ़ियां तो टेस्ट की होंगी?

31. रंग-बिरंगे बैंड्स बांधने का क्रेज़.

daily

अगर आप भी 90’s की पैदाइश हैं, तो ये चीज़ें ज़रूर याद होंगी. फ़िलहाल अब वो वक़्त, तो वापस नहीं आ सकता, लेकिन हां इन तस्वीरों के ज़रिए उन यादों को दोबारा जिया ज़रूर जा सकता है!