यूं तो पुलिस वालों की छवि आम लोगों में कुछ ज़्यादा अच्छी नहीं है, मगर कोरोना महामारी के संकट के बीच ये धारणा काफ़ी बदली है. सैंकड़ों पुलिस वाले हैं जो अपनी परवाह किए बगैर लोगों की मदद कर रहे हैं. उन्हीं में से एक हैं भठिंडा के SSP नानक सिंह. वो अपनी टीम के साथ मुश्किल की इस घड़ी में दिन रात लोगों कि मदद करने में जुटे हुए हैं. इलाके के लोग उन्हें रियल हीरो मानते हैं और सोशल मीडिया पर उनके स्केच बनाकर उनके काम की सराहना करते रहते हैं.

पंजाब के भठिंडा ज़िले में कोरोना वायरस से रोज़ाना जंग लड़ने के लिए निकलते हैं नानक सिंह और उनकी टीम. ये वरिष्ठ नागरिकों की सेहत का विशेष ध्यान रखते हैं. कोई भी कॉल आते ही तुरंत रिस्पॉन्स करते हैं और उनकी मदद करते हैं. इसके साथ ही इनकी टीम ग़रीब लोगों में खाना भी बांटती है. यही नहीं आवारा पशुओं के फ़ूड का भी इंतज़ाम इनके द्वारा ही किया जाता है.

Source: hindustantimes

नानक सिंह जी अपनी टीम के द्वारा किए जा रहे सभी कार्यों की जानकारी सोशल मीडिया के ज़रिये लोगों तक पहुंचाते हैं. इसकी मदद से लोगों की समस्याओं को हल करने की कोशिश भी की जाती है. इस दौरान वो अपने साथियों द्वारा की जा रही कड़ी मेहनत के बारे में भी लोगों को बताते हैं और उनकी भी सराहना करते हैं. उनके इस नेक काम की लोग प्रशंसा करते हैं और उनके स्केच बनाकर उन्हें सलाम भी करते हैं. 

PPBathinda
Source: facebook

नानक सिंह कहते हैं- 'लोगों से इस तरह सराहा जाना हमें स्पेशल फ़ील कराता है. साथ ही हमें इन मुश्किल हालातों में भी अपने कर्तव्य को करते रहने का हौसला भी मिलता है. सोशल मीडिया ने हमारे और पुलिस के बीच की दूरियों को ख़त्म कर दिया है. इस तरह बहुत सी समस्याओं को भी हल करने में मदद मिल रही है.'

Source: hindustantimes

इनकी टीम ने सोशल मीडिया पर लोगों को इस ख़तरनाक वायरस के प्रति जागरुक करने के लिए एक वीडियो भी शेयर किया है. आप भी देखिए: 

टीम ने एक Hunger Helpline नंबर भी शुरू किया है. इस नंबर पर कॉल कर लोग ज़रूरतमंदों तक खाना पहुंचाने में उनकी हेल्प कर सकते हैं. इसकी मदद से ज़िले के ग़रीब लोगों तक रोज़ाना खाना पहुंचाया जा रहा है. इसके साथ ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अपनी इस टीम का पूरा ख़्याल रखते हैं. 

वो उन्हें इस चिलचिलाती गर्मी में पानी की बोतल, विटामिन सी की टैबलेट, छाता, मास्क आदि भी मुहैया कराते हैं. क्योंकि अगर ये सभी स्वस्थ रहेंगे तभी तो वो दूसरों का ख़्याल रख पाएंगे. काम के प्रति ऐसी निष्ठा देख कर ही इलाके के लोग इनकी तारीफ़ करते नहीं थकते हैं. भठिंडा पुलिस को हमारी टीम की तरफ से भी दिल से सलाम.

Life से जुड़े दूसरे आर्टिकल पढ़ें ScoopWhoop हिंदी पर.