ये बात किसी से छुपी नहीं है कि हमारा देश भारी जल संकट से जूझ रहा है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, आने वाले 6 महीने में देश के करीब 21 शहरों में भूमिगत जल ख़त्म हो जाएगा. तमिलनाडु ने इसी साल मार्च में अपने 24 ज़िलों को सूखाग्रस्त घोषित कर दिया था. चेन्नई में तो जल संकट अपने चरम पर पहुंच गया है. हालात ये हो गए हैं कि वहां पर हर रोज़ शहरों में 15000 टैंकर पानी लेकर पहुंच रहे हैं, लेकिन फिर भी पानी की कमी बनी हुई है.

अब इस समस्या से इतने सारे लोग परेशान हैं, तो इसका हल भी निकाला जाना ज़रूरी है. इसके लिए चेन्नई के लोग ख़ुद ही आगे आए हैं और पानी बचाने के लिए तरह-तरह के तरीके अपना रहे हैं. चलिए जानते हैं कि कैसे वहां के लोग पानी की एक-एक बूंद को बचाने में जुटे हुए हैं…

1. घर से काम करना

Source: indiaglitz

चेन्नई की कई आईटी कंपनियों ने अपने कर्मचारियों से घर से काम करने के लिए कहा है. साथ ही जो कर्मचारी वर्क फ़्रॉम होम करने के बजाए दफ़्तर आ रहे हैं, उन्हें टॉयलेट में कम से कम पानी यूज़ करने की हिदायत दी गई है.

2. बिग बॉस

Source: indianexpress

बिग बॉस तमिल के होस्ट और सुपरस्टार कमल हासन ने शो के निर्माताओं को इस बार बिग बॉस के घर में स्वीमिंग पूल नहीं बनाने का आग्रह किया है. साथ ही उन्होंने प्रतिभागियों से कहा कि वो कम से कम पानी का इस्तेमाल करें.

3. गाड़ी धोने के लिए ड्राई वाश

Source: ndtv

ऑटोमोबाइल कंपनी रॉयल इनफ़ील्ड अपनी मोटरसाइकिलों को धोने के लिए ड्राई वॉश तकनीक का इस्तेमाल करने का प्लान बना रही है. इसके शहर में 21 आउटलेट हैं, जहां पर मोटरसाइकिलों को धोने में करीब 18 लाख लीटर पानी बचेगा.

4. इडली खाने से बचेगा पानी

Source: newsonfloor

चेन्नई के एक शख़्स ने सोशल मीडिया पर स्कूल के छात्रों को लंच में इडली और कांटा यानी फ़ोर्क लाने को कहा है. इस तरह लंच में खाना खाने के बाद हाथ धोने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी और अधिक से अधिक पानी की बचत भी होगी.

5. बारिश के पानी वाले सीन नहीं होंगे शूट

Source: indianexpress

तमिल फ़िल्म इंडस्ट्री ने ये फ़ैसला लिया है कि जब तक राज्य में जल संकट है, तब तक बारिश या फिर स्वीमिंग पूल वाले सीन शूट नहीं किए जाएंगे. साथ ही ऐसी स्क्रिप्ट्स पर फ़िल्में नहीं बनाने का फैसला लिया गया है, जिनमें पानी के सीक्वेंस हों.

6. बाथ टब में स्नान

Source: deccanchronicle

चेन्नई के पेरंबूर में रहने वाले एंटनी राज और उनकी फ़ैमिली ने बाथ टब में नहाना शुरु कर दिया है. नहाने के बाद वो बाथ टब में बचे पानी को टॉयलेट के फ़्लश में इस्तेमाल करते हैं. इस तरह वो पानी को री-यूज़ कर पानी को बचा रहे हैं.

7. एसी के पानी से नहाना

Source: thehindu

शहर के कुछ लोग एसी से निकने वाले पानी को बाल्टी में इकट्ठा कर उसका यूज़ नहाने के लिए कर रहे हैं. कुछ लोग इसी पानी से गाड़ियां भी धो रहे हैं.

8. सेलेब्रिटी भी पानी बचाने के टिप्स दे रहे हैं

Source: amarujala

साउथ इंडियन फ़िल्मों की मशहूर गायिका चिन्मयी श्रीप्रदा ने जून में अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट लिखी. उन्होंने इसमें बताया कि वो कपड़े धोने के लिए फ़्रेंडली डिटर्ज़ेंट का इस्तेमाल करती हैं और वॉशिंग मशीन में बचे पानी को पौधों में डाल देती हैं.

9. आरओ के पानी का इस्तेमाल

Source: scroll

शहर के लोग आरओ से निकलने वाले वेस्ट पानी को लोग बर्तन धोने, पोछा लगाने और पौधों को पानी देने में दोबारा इस्तेमाल कर रहे हैं.

10. वर्षा जल संरक्षण

Source: scroll

वेल्लूर में रहने वाले डॉक्टर कंडासामी सुब्रमणि ने अपनी कार पार्किंग के नीचे एक वाटर टैंक बनवाया है. इसमें वो बारिश का पानी इकट्ठा करते हैं. उनका कहना है कि इस तरह वो हर साल करीब 60,000 लीटर पानी बचा लेते हैं.

तो देखा आपने संकट के वक़्त कैसे चेन्नई शहर का हर तबका एक जुट होकर इस समस्या से निपट रहा है. हमें भी उनसे सीख लेने की ज़रूरत है.