पुलवामा अटैक के करीब 14 दिन बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट पर एयर स्ट्राइक की थी. जिसके जवाब में पाकिस्तान के लड़ाकू विमान F-16 आकाश सीमा का उल्लंघन करते हुए भारतीय सीमा में घुस आये थे और उनको मुंहतोड़ जवाब देते हुए विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान का विमान मिग-21 कैश हो गया, और उनको पाकिस्तान आर्मी ने कैद कर लिया था. उसके बाद अभिनंदन को 60 घंटों के लिए पाकिस्तान की कैद में रखा गया था.

Source: intoday

पाकिस्तान ने शान्ति का सन्देश देते हुए विंग कमांडर अभिनंदन को रिहा करने का फ़ैसला किया और वो 1 मार्च को भारत लौटे. अभिनंदन की वतन वापसी को लेकर पूरे देश में, मीडिया, सोशल मीडिया हर जगह जश्न का माहौल था. लोगों ने नाच-गा कर अपने हीरो की वतन वापसी पर खुशियां मनाईं.

Source: timesnownews

सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म ट्विटर पर अभिनंदन के लिए शुभ संदेशों की बाढ़ सी आ गई. इन्हीं मैसेजेज़ में एक कविता जिसका शीर्षक, 'सबके बस की बात नहीं', है को इंडियन एयर फ़ोर्स ने अपने ट्विटर हैंडल से पोस्ट किया:

आप इस कविता को यहां पढ़ सकते हैं:

ये कविता विपिन 'इलाहाबादी' नाम के एक यूज़र ने अभिनंदन की वापसी के एक दिन बाद यानि 2 मार्च को लिखी थी. इस कविता में वायुसेना के पायलट द्वारा पाकिस्तान में रहने के दौरान दिखाई गई शक्ति, शांति और सूझ-बूझ की सराहना करती है. अभिनंदन के संतुलित, शांत और सरल स्वभाव ने पूरे राष्ट्र को आकर्षित किया है और उनकी इसी खूबी को इस कविता में पिरोया गया है.

इस कविता को ट्विटर यूज़र्स ने हाथों-हाथ लिया:

देश के हर नागरिक को भारत के सशस्त्र बलों को हमेशा सलाम करना चाहिए, क्योंकि वो हैं इसलिए हम अपने देश में सुरक्षित है और शान्ति और सुकून भरी नींद ले पा रहे हैं. 'जय हिंद, जय भारत!'