अक्षय कुमार उन कुछ अभिनेताओं में से हैं, जो असल ज़िन्दगी में भी हीरो का किरदार निभाते हैं. वो हमेशा से किसी न किसी बहाने देशहित के लिए कुछ न कुछ करते रहते हैं. चाहे वो शहीदों के बारे में हो या देश के युवाओं के बारे में, अक्षय हर मुद्दे पर अपनी राय रखते हैं. इस साल उन्हें फ़िल्म ‘रुस्तम’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का अवॉर्ड मिला, लेकिन इस अवॉर्ड के परे, उन्होंने साल 2017 में कुछ ऐसे उल्लेखनीय कार्य किए हैं, जिससे ये साबित होता है कि इंडस्ट्री में उनसे बड़ी प्रेरणा शायद ही कोई हो.

1. नए साल पर बेंगलुरु में हुई 11महिलाओं से बदतमीज़ी के विरोध में बोले

नए साल पर बेंगलुरु की एक वीडियो सामने आई थी, जिसमें सड़क की भीड़ ने महिलओं से खुलेआम बदतमीज़ी और छेड़छाड़ की थी. लगभग 1,500 पुलिस कर्मियों की मौजूदगी में ये घटना हुई थी. अक्षय ने न सिर्फ़ छेड़छाड़ करने वालों की लथेड़ लगाई, बल्कि उनको भी, जो भीड़ के बचाव में बयान दे रहे ​थे.

2. वीडियो के ज़रिए महिलाओं को दी आत्मरक्षा की क्लास

अक्षय हमेशा से मार्शल आर्ट और आत्मरक्षा को प्रमोट करते आए हैं. महिलाओं के प्रति अपराध के विरोध में उन्होंने कुछ महीनों पहले तापसी pannu के साथ मिलकर महिलाओं को आत्मरक्षा के दांव-पेंच ​एक वीडियो के ज़रिए सिखाए थे.

3. ‘भारत के वीर’ App को लॉन्च किया

अक्षय हमेशा उदार दिल के साथ देश के जवानों और शहीदों के परिवार की आर्थिक मदद के लिए आगे रहते हैं. इसी उदारता को उन्होंने App और वेबसाइट का रूप देते हुए पूरे भारत को इस नेक काम में शामिल कर लिया. सरकार की मदद से अक्षय ने ‘भारत के वीर’ App और वेबसाइट कुछ महीनों पहले लॉन्च की, जिसके ज़रिए कोई भी व्यक्ति देश के शहीदों के परिवारजनों को पैसे डोनेट कर सकता है.

4. स्टंट कलाकारों के लिए बीमा योजना की पहल

अक्षय अपनी फ़िल्मों में खुद स्टंट कर चुके हैं, ​इसलिए वो जानते हैं कि एक स्टंट आर्टिस्ट की ज़िन्दगी कितनी जोखिम भरी होती है. बीते दिनों उन्होंने इंडस्ट्री के स्टंट आर्टिस्ट्स के लिए बीमा योजना की पहल की. ये योजना उन्होंने मशहूर डॉक्टर रमाकांता पांडा के साथ मिल कर शुरु की है, जिसमें बॉलीवुड के 380, 18 से 55 वर्षीय आर्टिस्ट्स को 10 लाख तक का इंश्योरेंस कवर मिलेगा.

5. टॉयलेट बनाने का सिर्फ़ ज्ञान नहीं दिया, उसके लिए खुद गड्ढा खोदा

अक्षय अपनी अगली फ़िल्म ‘टॉयलेट- एक प्रेम कथा’ पर काम कर रहे हैं. इस फ़िल्म में खुले में शौच के मुद्दे को उठाया गया है कि किस तरह से महिलाओं की सुरक्षा, गरिमा इस कारण खतरे में है. खुले में शौच से फैलने वाली बीमारी लोगों के लिए बड़ी समस्या है. इस प्रोजेक्ट पर काम करते वक़्त उन्होंने मध्यप्रदेश के खरगोन गांव में टॉयलेट बानने के​ लिए खुद गड्ढा खोदा.

6. मार्च में छत्तीसगढ़ के सुकमा में शहीद ​हुए 12 CRPF जवानों के परिवार को नौ लाख रुपये डोनेट किए

11 मार्च 2017 को छत्तीसगढ़ के सुकमा में 12 CRPF जवान माओवादियों से मुठभेड़ में शहीद हो गए ​थे. अक्षय ने इस पर न सिर्फ़ अफ़सोस जताया, बल्कि उनके परिवारों को आर्थिक रूप से भी सहयोग किया. जब उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्रालय से इन शहीदों के बैंक खातों की जानकारी ली, तभी उन्हें ‘भारत के वीर’ App और वेबसाइट लॉन्च करने का विचार आया.

सच में अक्षय असली खिलाड़ी हैं. 

Feature Image Source- Pinterest