परिवर्तन ही संसार का नियम है. इसलिए आज के दौर के बच्चों और 90 के दशक के बच्चों में काफ़ी अंतर है. इसमें कोई दोराय नहीं है कि आजकल के बच्चे काफ़ी समझदार और होशियार होते हैं. इसके साथ ही उन्हें पहले के बच्चों की तुलना में मार भी कम पड़ती है. अब सज़ा के नाम पर बच्चों से वाईफ़ाई पासवर्ड या क्रेडिट कार्ड ले लिया जाता है. पर 90 के दशक में ज़रा-ज़रा सी बात पर बच्चों की कुटाई कर दी जाती थी. यानि वो पिट जाते थे.

आइये देखते हैं कि उस दौर के बच्चे किस-किस बात पर मम्मी-पापा से मार खा जाते थे.

जानते हैं कि ये पढ़ने के बाद आप में से कई लोगों के ज़ख़्म ताज़ा हो गये होंगे. पर कोई बात नहीं रात गई, बात गई.

वैसे कमेंट में बताना मत भूलना कि आपको बचपन में किस बात पर मार पड़ जाती थी.

Design By: MUSKAN BALDODIA

Humor के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.