मेरे घर से मेरे ऑफ़िस की दूरी कुछ 45 मिनट की है, जहां मैं रोज़ कैब से जाती हूं. 45 मिनट की इस दूरी में मुझे रोज़ एक अलग ड्राइवर मिलता है, जिसका ड्राइव करने का अंदाज़ ही अलग नहीं होता, बल्कि उसका किरदार, उसका व्यवहार सब अलग होता है. इस तरह से देखा जाए, तो मैं कई तरह के इंसानों से अब तक मिल चुकी हूं. 45 मिनट की उस दूरी में शायद 10 मिनट हम चुप रहते होंगे. उसके बाद हमारी बातें शुरू हो जाती हैं और वो मुझे अपनी बताते हैं और मैं उन्हें अपनी.

ऐसे ही कुछ Cab Driver के बारे में मैं आपको बताने जा रही हूं:

मैडम या सर आपका ड्रॉप यहीं तक था!

इसी तरह के और आर्टिकल पढ़ने के लिए क्लिक करें.

Design By: Saloni Priya