हर शहर की अपनी एक पहचान होती है, जैसे मुंबई का नाम लेते ही ज़ेहन में बॉलीवुड और वड़ा पाव का ख़्याल आता है. वहीं दिल्ली का ज़िक्र होते ही सबसे पहले आंखों के सामने 'इंडिया गेट' और 'तू जनता है मेरा बाप कौन है?' की छवि बन जाती है. कानपुर का नाम लें, तो सब गुटका-गुटका करने लगते हैं. अब इन शहरों के बारे में विस्तार से बात बाद में करेंगे, लेकिन उससे पहले ये बताइये कि अगर आपसे ये पूछा जाये कि बिहार का नाम सुनते ही आपके दिमाग़ में पहली चीज़ क्या आती है, तो आपका जवाब क्या होगा?

सोचो-सोचो, पर उससे पहले लोगों के ये जवाब भी देख लो:

1.

ठेकुआ छठ पर्व पर बनाया जाने वाले सबसे अच्छा और स्वादिष्ट पकवान होता है. यही नहीं, कहते हैं कि इसके बिना छठ पूजा पूरी नहीं होती.

2.

हर साल देश में सबसे ज़्यादा IAS बिहार से निकलते हैं.

3.

बिहार में दहेज का सिस्टम थोड़ा ख़राब है. इसलिये यहां लड़के की पढ़ाई-लिखाई और उसके काम को देखते हुए, लड़कीवालों से दहेज की मांग की जाती है.

4.

यूं, तो अनुराग कश्यप की फ़िल्म वासेपुर धनबाद, झारखंड के कोयला माफ़िया और तीन आपराधिक परिवारों के बीच की कहानी है. इसलिये बिहार का नाम सुनते ही इस फ़िल्म की याद आना वाजिब है.

5.

लड़का-लड़की चाहे कितना ही पढ़-लिख क्यों न जाये, लेकिन बिहार का हर परिवार अपने बच्चे को सरकारी नौकरी करते हुए देखना चाहता है.

6.

चारा घोटाला बिहार का सबसे बड़ा घोटला है, जिसके आरोप में सुप्रीम कोर्ट ने लालू यादव को पांच साल की सज़ा भी सुनाई है.

7.

बिहार का लिट्टी-चोखा दुनियाभर में काफ़ी फ़ेमस है.

8.

दिल्ली का मुर्खजी नगर कोचिंग मंडी हैं, जहां IAS-IPS की तैयारी कर रही आधी जनता बिहार से होती है.

9.

राधे श्याम रसिया का ये गाना जब भी बजता है, तब बिहार ही नहीं दिल्ली-मुंबई भी नाच उठता है.

11.

होली हो, तो लालू यादव जैसी.

11.

इसमें कोई दोराय नहीं है कि बीते कुछ सालों में बिहार ने काफ़ी तरक्की की है, लेकिन ग़रीबी का तोड़ अब तक नहीं निकाला जा सका है.

12.

अगर भारत में सबसे ज़्यादा जुगाडू लोग कहीं हैं, तो वो बिहार में ही हैं. ये लोग बिना चिमटे के भी रोटी सेंक सकते हैं.

13.

नीतिश कुमार ने बिहार का सीएम बनते ही सबसे पहले शराबबंदी की थी. हांलाकि, पीने वाले कोई न कोई जुगाड़ निकाल ही लेते हैं.

14.

कहते हैं कि कठोर साधना के पश्चात गौतम बुद्ध को बोध गया (बिहार) में बोधि वृक्ष के नीचे ही ज्ञान की प्राप्ति हुई.

15.

बिहार की मधुबनी पेंटिग्स सिर्फ़ देश में नहीं, बल्कि विश्वभर में प्रसिद्ध हैं.

16.

जब भी किसी को भोजपुरी में करते हुए सुना जाता है, लोगों के ज़ेहन में बिहार ही आता है.

17.

अब मनोज तिवारी का ये गाना सुनकर बिहार की याद आना तो बनता है.

18.

छठ बिहार का सबसे बड़ा पर्व होता है और बिहार के लोगों के लिये त्यौहार बहुत महत्वपूर्ण होता है.

19.

बिहारियों की एक ऐसी छवि भी है, जो वहां के बढ़ते क्राइम रेट की कहानी कहती है.

20.

मेहनत के मामले में बिहार के लोग काफ़ी अच्छे होते हैं. वो हर काम मेहनत और शिद्दत से करते हैं.

21.

किसी भी मीडिया संस्थान में चले जाओ, हर डेस्क पर 2-3 लोग बिहार से मिल ही जाएंगे.

बिहार को लेकर आपके दिमाग़ में अभी क्या चल रहा, जल्दी से कमेंट में बता दो और अपने बिहारी दोस्त को टैग करना मत भूलना.

Design By: Lucky