कोरोना महामारी के चलते दुनिया के कई देश लॉकडाउन हैं. इसलिए लोग सोशल मीडिया पर काफ़ी एक्टिव हो गए हैं. ख़ासकर WhatsApp पर. लोग इस एप का इस्तेमाल अपने दोस्तों और परिवार के लोगों के साथ जुड़े रहने के लिए अधिक कर रहे हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक, लॉकडाउन के कारण व्हाट्सएप फ़ॉरवर्ड में 40 फ़ीसदी की बढ़ोतरी हो गई है. ऐसे में कोरोना से जुड़ी फ़ेक न्यूज़ के फैलने का ख़तरा है. इसे ध्यान में रखते हुए WhatsApp ने मैसेज फ़ॉरवर्डिंग को लेकर नए नियम बनाए हैं.

nakedsecurity

फ़ेक न्यूज़ को रोकने के लिए कंपनी ने किसी फ़ॉरवर्ड मैसेज को सिर्फ़ एक चैट के साथ शेयर करने तक ही सीमित कर दिया है. मतलब अब आप एक बार में बस एक ही यूज़र को मैसेज फ़ॉरवर्ड कर पाएंगे. इससे पहले आप एक मैसेज को 5 लोगों को एक बार में शेयर कर सकते थे. इसकी मालिकाना कंपनी फ़ेसबुक ने एक बयान जारी कर इस बात की घोषणा की है.

businesstoday

उन्होंने बताया कि इससे फ़ेक न्यूज़ पर लगाम कसने में मदद मिलेगी. लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि आप एक से ज़्यादा लोगों को फ़ॉरवर्ड मैसेज बिल्कुल भी नहीं भेज पाएंगे. आप उस मैसेज को कॉपी करके और चैट बॉक्स में पेस्ट कर अधिक लोगों तक पहुंचा सकते हैं.

फ़ेक न्यूज़ पर लगाम लगाने के लिए कंपनी ने कुछ समय पहले लोगों को फ़ॉरवर्ड मैसेज की प्रमाणिकता जांचने का भी विकल्प पेश किया था. इससे लोग अपने मैसेज को गूगल पर सर्च कर ये जान सकते थे कि कोई ख़बर सच्ची है या झूठी. कंपनी के अनुसार भारत में उसके 400 मिलियन यूज़र्स हैं. इसलिए भारत में भी फ़ेक न्यूज़ फैलने के चांस अधिक हैं. 

इसलिए कंपनी ने फ़ॉरवर्ड मेसेज को सिर्फ़ एक चैट तक सीमित कर सही निर्णय लिया है. इससे फ़ेक न्यूज़ पर लगाम लगाने मे मदद मिलेगी.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.