आपने लोगों के शरीर पर ऐसे निशान कई बार देखे होंगे-

Source: CNA Lifestyle
Source: Paranormal
Source: Yale Medicine

या फिर आपके ख़ुद के शरीर पर भी जन्म से ही कुछ दाग़ होंगे, जिन्हें हम बर्थमार्क कहते हैं.


आज जानिये क्यों होते हैं बर्थमार्क

एक रिपोर्ट के मुताबिक़, बर्थमार्क की दो कैटगरीज़ होती हैं-


वस्कुलर
पिगमेंटेड

डॉक्टर्स के अनुसार, पिगमेंटेड बर्थमार्क्स स्किन के किसी एक एरिया में मेलनिन की अधिक मात्रा की वजह से होती हैं. इन्हें, मोल्स, Cafe Au Lait Spots और मंगोलियन स्पॉट्स कहते हैं और ये Adolescence में ग़ायब हो जाते हैं. इनसे आमतौर पर कोई ख़तरा नहीं होता पर डॉक्टर के पास जाने में ही भलाई है.


वस्कुलर बर्थमार्क्स का सबसे कॉमन टाइप है 'Stork Bites'. ये स्पाइडर वेन्स की तरह होता है और कई बच्चे इनके साथ पैदा होते हैं. 18 महीने के होने तक ये बर्थमार्क्स ग़ायब हो जाते हैं.

बर्थमार्क्स को लेकर कई अंधविश्वास हैं. कई लोग मानते हैं कि अगर किसी गर्भवती महिला को गर्भावस्था में कोई स्ट्रॉन्ग इमोशन महसूस हो और वो शरीर के किसी ख़ास हिस्से को छुए तो उसके बच्चे को शरीर के उसी स्थान पर बर्थमार्क होता है.


कुछ डॉक्टर्स बर्थमार्क के असल कारण को बेहद जटिल मानते हैं. ज़्यादातर बर्थमार्क्स से शरीर को कोई हानि नहीं होती और ज़्यादातर बर्थमार्क्स के लिए ट्रीटमेंट की भी ज़रूरत नहीं होती. ये मां के एक्शन्स से नहीं होते.

बर्थमार्क्स के कुछ और प्रकार-

Café au lait macules

Source: Science Direct

ये हल्के भूरे या मिल्क-कॉफ़ी रंग के होते हैं. ये 5 मिलिमीटर से कम साइज़ के होते हैं. Café au lait macules ये जन्म के समय होते हैं और बढ़ती उम्र के साथ हल्के पड़ने लगते हैं. इसके लिए ट्रीटमेंट की ज़रूरत नहीं होती. लेज़र ट्रीटमेंट से Café au lait macules के अपीयरेंस को हल्का किया जा सकता है.

Congenital Mole

Source: Pinterest

Congenital Mole या Congenital Melanocytic Naevus ये पिगमेंट सेल्स का हार्मलेस ग्रोथ है. ये या तो जन्म से होता है या फिर जन्म के कुछ महीनों बाद बनते हैं. ये मोल शरीर के किसी भी हिस्से में होते हैं और इनका साइज़ बड़ा या छोटा हो सकता है. अगर Congenital Naevi का डायमीटर में 5 सेंटीमीटर से कम है तो कोई रिस्क फ़ैक्टर नहीं है पर अगर ये इससे बड़े होते हैं तो ये Melanomas में बदल सकते हैं.

Mongolian Spot

Source: Medical News Today

Mongolian Spot ब्लू-ब्राउन स्टैन होते हैं जो किसी चोट के निशान की तरह दिखते हैं. ये आमतौर पर जन्म से ही Lumbar Spine, बम, शरीर के साइड या कंधों पर होते हैं. ये एशिया के बच्चों को ज़्यादा होता है. वक़्त के साथ ये फ़ेड होने लगता है.

Haemangioma या Strawberry Naevus

Source: Med Health

ये ओवल शेप का वस्कुलर बर्थ मार्क है और शरीर के किसी हिस्से में हो सकता है. ये जन्म के कई हफ़्तों बाद शरीर पर नज़र आता है. 3 से 6 महीने के बीच ये तेज़ी से ग्रो करता है.


इनका ट्रीटमेंट जितना जल्दी किया जाये उतना बेहतर है. बिना ट्रीटमेंट के ये वक़्त के साथ ख़त्म तो हो जाते हैं पर इसमें बहुत समय लगता है.

Port Wine Stain

Source: Health Line

ये बर्थमार्क ब्लड वेसेल का मालफ़ॉरमेशन है. ये त्वचा पर फ़्लैट, लाल रंग का बर्थमार्क बनाता है. जन्म के बाद सिर्फ़ 2% बच्चों में ही ये पाया जाता है. आमतौर पर बर्थमार्क वक़्त के साथ धुंधले पड़ते हैं पर ये वक़्त के साथ और गहरे होने लगते हैं. ये वैसे तो शरीर में कहीं भी हो सकता है पर ज़्यादातर सिर और गर्दन में होते हैं.

Salmon Patch या Stork Bite

Source: PCDS

ये सबसे कॉमन वस्कुलर बर्थमार्क है. ये सिर पर, अपर आईलिड पर या गर्दन के पीछे पेल रेड या पिंक फ़्लैंट मार्क होता है. 50% बच्चों में ये पाया जाता है.