ट्रेन से सफ़र करने के दौरान आपने एक बात ज़रूर नोटिस की होगी. वो ये कि उसके आख़िरी कोच में X का निशान बना होता है. ये निशान सभी रेलगाड़ियों के अंतिम कोच में बना होता है, फिर चाहे वो माल गाड़ी हो या फिर सवारी गाड़ी. पर ये निशान क्यों बनाया जाता है, इसका मतलब क्या है? ये जानते हैं आप? नहीं, चलिए आज आपके इस सवाल का जवाब भी दिए देते हैं.

Source: travelkhana

रेलगाड़ी से जुड़े इस सवाल का जवाब हमें सवाल-जवाब की वेबसाइट Quora पर मिला है. उसके अनुसार ट्रेन के अंतिम कोच में बना X का निशान हमारी सुरक्षा से संबंधित है. दरअसल, X का निशान दर्शाता है कि ये ट्रेन का अंतिम कोच है. इसके बाद गाड़ी समाप्त है.

इसे देखकर ही रेलवे कर्मचारियों जैसे स्टेशन मास्टर और रेलवे क्रॉसिंग पर काम करने वाले कर्मचारियों को पता चल जाता है कि ट्रेन पूरी गुज़र चुकी है. अगर उन्हें ये मार्क ट्रेन के आख़िर में नहीं दिखाई देता है, तो इसे आपात स्थिति समझ कर अधिकारियों को सूचित किया जाता है. फिर उसके अनुसार कार्रवाई की जाती है. इससे ट्रेन और उसमें बैठे यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित होती है.

इसके अलावा आख़िरी कोच पर LV भी लिखा होता है. इसका मतलब होता है लास्ट व्हीकल यानी अंतिम डिब्बा. इसके अलावा रात में एक एलईडी लैंप को पिछले डिब्बे पर लगाया जाता है, जो ब्लिंक करता रहता है. ये आख़िरी डिब्बा होने की निशानी के तौर पर लगाया जाता है.

Source: quora

इन तीनों साइन्स को देखकर ये अंदेशा लगाया जाता है कि ट्रेन पूरी है और उसका कोई डिब्बा यॉर्ड या फिर स्टेशन पर नहीं छूटा है.

रेलगाड़ी से जुड़ी ये जानकारी जानते थे आप?

Life से जुड़े दूसरे आर्टिकल पढ़ें ScoopWhoop हिंदी पर.