अगर आप इस स्टोरी को पढ़ रहे हैं, तो इतना पक्का है कि आप के पास एक फ़ोन/लैपटॉप है और उसमें इंटरनेट उपलब्ध है. आपको और हमें ज़िंदगी के कई गंभीर सवालों से दो-चार नहीं होना पड़ता, जैसे- दो वक़्त का खाना.

दुनिया में ऐसे लोग भी हैं, जिनका दिन सिर्फ़ दो रोटी की जुगत में निकल जाता है. हैदराबाद में रहने वाले Gowtham Kumar वैसे लोगों के बारे में सोचते हैं और उनके लिए बनाया है 'Serve Needy' नाम का NGO.

Source: India Times

Gowtham गरीब, बुज़ुर्ग, असहाय और अनाथ लोगों के लिए शरण स्थान चलाते हैं. हाल में उन्होंने पुण्यवर्धक वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है जिसे Universal Book Of Records में दर्ज किया गया है. उन्होंने एक दिन हज़ार लोगों ज़रूरतमंदों को खाना खिलाया है.

इस काम के लिए उन्हें Universal Book Of Records के प्रतिनिधि की ओर से सम्मानित भी किया गया.

न्यूज़ एजेंसी ANI से हुई अपनी बातचीत में Gowtham ने कहा कि वो साल 2014 से ये काम कर रहे थे, आज उनके पास 140 स्वंयसेवक हैं जो उनकी मदद करते हैं. आज उन्होंने अपने हाथों से एक हज़ार लोगों को खाना परोसा, इसलिए वर्ल्ड रिकॉर्ड बन गया.

वो अपने संगठन का विस्तार कर रहे हैं ताकि कोई भी भूख से न मरे. हम और भी लोगों और सरकार से मदद की उम्मीद करते हैं.'

Gowtham Kumar की संस्था इस कार्य के अलावा शिक्षा के क्षेत्र में भी काम कर रही है और वो बच्चों के बीच किताब और ज़रूरत का सामान बांटती रहती है.