नींबू जैसे स्वाद वाली लेमनग्रास एक बहुत ही लाभकारी हर्ब है. इसका इस्तेमाल चाय के साथ-साथ कई तरह के व्यंजन बनाने में भी किया जाता है. इसमें विटामिन ए और सी, फ़ॉलेट, कैल्शियम, फ़ोलिक एसिड, मैग्नीशियम, कॉपर, आयरन, पोटैशियम, ज़िंक, फ़ास्फ़ोरस, और मैगनीज़ भरपूर मात्रा में होता है. ये एंटीबैक्टीरियल, एंटीफ़ंगल, एंटी-कैंसर, एंटीडिप्रेसेंट गुणों से भी भरपूर होती है.

इतने औषधीय गुण से भरी लेमनग्रास के फ़ायदे जान लीजिए:

1. एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर लेमनग्रास के सेवन से पेट से जुड़ी समस्याओं जैसे, कब्ज़, दस्त, पेट की सूजन, पेट में ऐंठन, उल्टी आदि समस्याओं से निजात मिलती है.

2. लेमनग्रास में मैग्नीशियम, फ़ास्फ़ोरस और फ़ॉलेट मौजूद होते हैं. इसलिए इसके सेवन से एकाग्रता, याद्दाश्त और दिमाग़ की क्षमता बेहतर होती है.

3. लेमनग्रास में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटीसेप्टिक एक बेहतर डिटॉक्स हर्ब है. ये लीवर, किडनी, ब्लैडर और ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने में मदद करता है.

4. लेमनग्रास में कैंसर सहित कई बीमारियों से लड़ने वाले प्रभावशाली एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं.

5. जो बच्चे ADHD से पीड़ित होते हैं उन्हें लेमनग्रास का सेवन कराना चाहिए. ADHD से पीड़ित बच्चों में नींद न आने की समस्या होने लगती है, जो लेमनग्रास टी के सेवन से धीरे-धीरे दूर हो जाती है. 

6. विटामिन सी से भरपूर लेमनग्रास टी बुखार, कफ़ और सर्दी में फ़ायदेमंद होती है. चाय के लिए आप ताज़ी या सूखे दोनों तरह की लेमन ग्रास का प्रयोग कर सकते है. 

7. आयरन से भरपूर लेमनग्रास, एनीमिया के रोगियों के लिए काफ़ी फ़ायदेमंद होता है. इसके सेवन से शरीर में आयरन की कमी दूर होती है.

8. अगर आपके शरीर में दर्द बना रहता है तो लेमनग्रास टी पीने की आदत डालें, दर्द से निजात मिलेगी. ये सिरदर्द और जोड़ों के दर्द में भी बेहद फ़ायदेमंद होती है. 

9. जो महिलाएं बच्चों को स्‍तनपान कराती हैं उन्हें दिन में दो कप लेमनग्रास टी पीनी चाहिए. इससे बच्चे को मां का दूध पर्याप्त मात्रा में मिलता है और वो संक्रमण से भी बचा रहता है. प्रेगनेंसी के समय इसे पीने से बचें.

10. लेमनग्रास टी में मौजूद एंटीडिप्रेसेंट गुण, दिमाग़ को शांत कर डिप्रेशन से बचाती है. 

Lifestyle से जुड़े आर्टिकल ScoopwhoopHindi पर पढ़ें.