Local Kashmiri Food: जम्मू-कश्मीर को धरती पर मौजूद भारत का जन्नत कहा जाए तो ग़लत नहीं होगा. इसकी ख़ूबसूरती ही तो है जिसके लिए दो भारत, पाकिस्तान और चीन के बीच जंग तक हो जाती हैं. इस ख़ूबसूरत जगह पर जो गया वो यहां से वापस आना नहीं चाहता, क्योंकि कश्मीर का प्राकृतिक सौंदर्य ही ऐसा है जो किसी को भी बांध लें. कश्मीर के बारे में एक बात ये है कि यहां के केवल नज़ारे ही नहीं मनलुभावन हैं, बल्कि यहां का लोकल कश्मीरी फ़ूड (Local Kashmiri Food) भी काफ़ी ज़ायकेदार है. इन टेस्टी-टेस्टी डिशेज़ में मुग़लों और अरबों का प्रभाव देखने को मिलता है. यहां पर नॉन-वेजिटेरियरन और वेजिटेरियन दोनों के लिए स्वादिष्ट व्यंजनों का भंडार है.

Local Kashmiri Food
Source: kashmirhills

इसलिए जब भी कश्मीर जाएं या अभी वहां पर हैं तो इस जन्नत में रहकर यहां के लोकल कश्मीरी फ़ूड (Local Kashmiri Food) का लुत्फ़ ज़रूर उठाएं, नहीं तो पछताएंगे.

ये भी पढ़ें: बनारसी की चाय से लेकर बाबा बिरयानी तक, कानपुर के इन 10 फ़ूड स्पॉट्स पर आपको मिलेगा यूपी का स्वाद

Local Kashmiri Food 

1. खंबीर (Khambir)

अगर कुछ अलग खाने का मन हो तो खंबीर की रोटी सही ऑप्शन रहेगा. ये एक पान के आकार की रोटी होती है, जिसे मक्खन की चाय के साथ खाया जाता है. इसे साबुत गेहूं के आटे से बनाया जाता है. मक्खन की चाय के साथ खाने में इसका स्वाद डबल हो जाता है.

Khambir
Source: ytimg

2. थुक्पा (Thukpa)

नूडल्स और सूप के मिश्रण से बना थुक्पा जम्मू कश्मीर (Local Kashmiri Food) का फ़ेमस फ़ूड है. इस फ़ूड की लोकप्रियता जम्मू-कश्मीर तक सीमित नहीं है, बल्कि पूरी नॉर्थ इंडिया में ये फ़ूड फ़ेमस है. ये वेजिटेरियन और नॉन-वेजिटेरियन दोनों होता है.

Thukpa
Source: cookshideout

3. नादिर मोंजी (Nadir Monji)

तला और स्पाइसी खाना खाने के शौक़ीन हैं तो नादिर मोंजी ज़रूर खाइएगा. कमल के फूल के तने से बनी ये डिश यहां के स्थानीय लोगों का फ़ेवरेट स्नैक्स है. इसे बनाने के लिए सबसे पहले बेसन में मसाले डालकर एक पेस्ट तैयार किया जाता है फिर इस पेस्ट में कमल के तने को लपेटकर डीप फ़्राई किया जाता है. ये डिश सबसे ज़्यादा डल झील के आस-पास मिलती है.
ये भी पढ़ें: विदेशों में पाकिस्तानी रेस्टोरेंट को भी Indian Food House कहा जाता है, जानना चाहते हो क्यों?

Nadir Monji
Source: ytimg

4. शीरमाल (Sheermal)

जम्मू-कश्मीर में 'शीरमाल' इतना फ़ेमस फ़ूड है इसका नाम हर किसी की ज़ुबान पर होगा. केसर से बना शीरमाल का स्वाद सबको लेना चाहिए. कुरकुरे और मीठे शीरमाल को आसानी से घर पर भी बनाया जा सकता है.

Sheermal
Source: zestysouthindiankitchen

5. गोश्तबा (Goshtaba)

राजाओं और महाराजाओं के ज़माने से पसंद किया जा रहा कश्मीर का पारंपरिक व्यंजन गोश्तबा एक शाही डिश है. इसे कश्मीरी शादी-पार्टियों में ज़्यादा खाया जाता है. गोश्तबा को मटन कीमा की छोटी-छोटी बॉल्स के आकारा का बनाया जाता है फिर इसे दही की ग्रेवी और विभिन्न मसालों के साथ बनाया जाता है.

Goshtaba
Source: ytimg

6. थेन्थुक (Thenthuk)

कश्मीर के पहाड़ी इलाक़ों में मिलने वाली थेन्थुक एक नूडल सूप डिश है. इसे गेहूं के आटे और सब्ज़ियों से तैयार किया जाता है. इसके स्वाद को दोगुना करने के लिए मटन और याक का मीट डाला जाता है. ये डिश थुकपा से बिल्कुल अलग है और इसका टेस्ट भी उससे अलग है.

Thenthuk
Source: crazymasalafood

7. बटर टी (Butter Tea)

कश्मीर के ठंडे इलाक़ों में मिलने वाली बटर टी को नमक और मक्खन डालकर बनाया जाता है. ये अलग तरह से बनी चाय जम्मू-कश्मीर की स्पेशल चाय है.

Butter Tea
Source: holidify

8. आब गोश्त (Aab Gosht)

अगर आपको मटन खाना पसंद है तो आप 'आब गोश्त' ज़रूर ट्राई करना. कश्मीरी लोग मटन ज़्यादा खाते हैं. आपको कश्मीर में मटन की 30 वैरायटी मिल जाएगी, जिसमें से आब गोश्त सबसे लोकप्रिय है. इसे दो तरह से कश्मीरी और ईरानी तरीक़े से बनाया जाता है. कश्मीरी आब गोश्त को दूध, इलायची और काली मिर्च सहित कई मसालों के साथ बनाया जाता है.

Aab Gosht
Source: orangewayfarer

9. कश्मीरी मुजी गाद (Kashmiri Muji Gaad)

त्यौहारों और अवसरों पर बनने वाली कश्मीर मुजी गाद को मूली या नादुर से बनाया जाता है. इस डिश को कमल के तने और मछली से भी बनाया जाता है. इसके स्वाद को दोगुना करने के लिए गर्म मसाले और जड़ी-बूटियां डाली जाती है.

Kashmiri Muji Gaad
Source: slurrp

10. मोदुर पुलाव (Modur Pulav)

मोदुर पुलाव को चावल, दालचीनी, केसर, दूध, चीनी, काजू, बादाम, हरी इलायची और घी से बनाया जाता है. इस पुलाव का स्वाद कुछ ऐसा है जिसे आपने पहले शायद ही कभी चखा हो. इसलिए कश्मीर जाना तो इस पुलाव को ज़रूर खाना नहीं, तो पछतावा रह जाएगा.

Modur Pulav
Source: archanaskitchen

जब कश्मीर (Local Kashmiri Food) जाएंगे तब खाकर आनंद ले लीजिएगा, अभी पढ़कर ही लुत्फ़ उठा लीजिए.