Heritage Transport Museum in Delhi: दिल्ली-एनसीआर में बहुत सारे प्रसिद्ध स्थल हैं. यहां न सिर्फ़ ऐतिहासिक इमारतें हैं बल्कि इन इमारतों के इतिहास को संजो कर रखने वाले कई म्यूज़ियम भी हैं. कुछ अतरंगी म्यूज़ियम भी आपको यहां मिल जाएंगे जैसे मेट्रो म्यूज़ियम, टॉयलेट म्यूज़ियम, डॉल म्यूज़ियम आदि.

Heritage Transport Museum
Source

पर क्या आप जानते हैं यहां पर एक और अनोखा म्यूज़ियम है, जो देश की यातायात यानी ट्रांसपोर्ट व्यवस्था से जुड़ा है. यहां पर देशभर में अलग-अलग समय में इस्तेमाल होने वाले विंटेज व्हीकल्स मौजूद हैं. यही नहीं यातायात से जुड़े पुराने विज्ञापन, सामान, पोस्टकार्ड, स्पेयर पार्ट्स और मैप भी आपको देखने को मिलेंगे. चलिए आज इस निराले संग्रहालय के बारे में भी जान लेते हैं.

ये भी पढ़ें: ब्रिटिश म्यूज़ियम्स में आज भी मौज़ूद हैं अपने देश की ये 5 अनमोल धरोहरें

दिल्ली में यहां पर है ये अनोखा म्यूज़ियम

Heritage Transport Museum
Source

इस म्यूज़ियम का नाम है Heritage Transport Museum. इसे तरुण ठकराल ने शुरू किया था. ये म्यूज़ियम NH-8, बिलासपुर चौक, ताओरू, गुरुग्राम में है. यहां आपको षटकोण के आकार में दीवार पर लटकी साइकिल, छत से झूलती विंटेज कार दिखाई देगी.

Heritage Transport Museum

Heritage Transport Museum
Source

यहां जोधपुर एक्सप्रेस रेलवे ट्रेन से लेकर अलग-अलग प्रकार के फ़ाइटर प्लेन्स के नमूने भी लगे हैं. इसमें एक सेक्शन बॉलीवुड को तो दूसरा जुगाड़ से बने वाहनों को दिया गया है. जहां पर एक से बढ़कर एक वाहन रखे आपको दिखाई देंगे.

चार हिस्सों में बंटा है म्यूज़ियम

इस पूरे संग्रहालय को 4 भागों में बांटा गया है. लेवल 0 में भारत में कार उद्योग के विकास को प्रदर्शित करने वाली ऑटोमोबाइल गैलरी है.

Heritage Transport Museum
Source

लेवल 1 में देश में अलग-अलग वक़्त में इस्तेमाल होने वाले वाहन और इंजन की प्रदर्शनी लगी है. इसमें पहिये से लेकर बैलगाड़ी तक शामिल है.

Heritage Transport Museum in Delhi
Source

लेवल 2 समुद्री और वायुयान को समर्पित है. यहां आपको छत से लटका एक पीला विमान भी देखने को मिलेगा.

Heritage Transport Museum in Delhi
Source

लेवल 3 में में एक आर्ट गैलरी है. यहीं पर एक लाइब्रेरी और जलपान ग्रह यानी कैंटीन भी है.

इतने रुपये की है टिकट

Heritage Transport Museum in Delhi
Source

इस म्यूज़ियम में विकलांग लोगों की एंट्री फ़्री है. बाकी लोगों को 200 रुपये का टिकट ख़रीदना होगा. सप्ताह में 6 दिन ये सुबह 10 से 7 बजे तक खुला रहता है. सोमवार को ये बंद रहता है. विकलांग और बुज़ुर्ग लोगों के लिए म्यूज़ियम को देखने के लिए लिफ़्ट और रैंप बनाए गए हैं. बीते कुछ सालों में ये प्रीवेडिंग-शूट के लिए बेस्ट डेस्टिनेशन के रूप में भी उभरा है.

अगली बार जब भी दिल्ली-एनसीआर जाना हो तो इस अनोखे म्यूज़ियम के दर्शन ज़रूर करना.