Indian CEO Educational Qualification: एक कंपनी को खड़ी करने में उसके फ़ाउंडर और सहयोगी पूरी जान झोंक देते हैं. आप हमेशा एक बात नोटिस करेंगे कि सभी बड़ी कंपनियों के सीईओ एकेडमिक्स में काफ़ी अच्छे हैं. उनके पास बेस्ट कॉलेज की डिग्री है. जब किसी व्यक्ति को उच्च क्वालिटी की शिक्षा हासिल हो और साथ ही उसमें मेहनत से आगे बढ़ने का जज़्बा हो, फिर तो उसे सफ़ल होने से ख़ुदा भी नहीं रोक सकता है. 

आज हम आपको भारत के सबसे अधिक कमाई करने वाले सीईओ की एजुकेशनल क्वालिफ़िकेशन के बारे में बता देते हैं.

1. सलिल पारेख

सलिल पारेख ‘इंफ़ोसिस’ कंपनी के CEO हैं. 2020-2021 के फ़ाइनेंशियल साल में उन्हें 71 करोड़ का मेहनताना मिला था, जो उनके कार्यकाल के पांच वर्षों के विस्तार पर बढ़कर 80 करोड़ रुपए हो गया. उन्होंने कॉर्नेल यूनिवर्सिटी से मैकेनिकल इंजीनियरिंग और कंप्यूटर साइंस में मास्टर ऑफ़ इंजीनियरिंग किया हुआ है. उन्होंने IIT बॉम्बे से एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में बैचलर्स ऑफ़ टेक्नोलॉजी किया है.

livemint

ये भी पढ़ें: सी. विजयकुमार समेत भारत के 7 सीईओ, जिनको मिलती है करोड़ों में सैलरी

2. सी. विजयकुमार

सी. विजयकुमार एचसीएल टेक्नोलॉजीज़ के सीईओ हैं. वो 130 करोड़ की सैलरी के साथ भारत के अधिकतम भुगतान पाने वाले सीईओ में से एक हैं. उन्होंने इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स में इंजीनियरिंग की है. 1990 में ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने बतौर R&D इंजीनियर एचसीएल टेक्नोलॉजी ज्वाइन की थी. इसके बाद से वो इसी कंपनी में हैं. उन्हें साल 2016 में कंपनी का सीईओ बनाया गया था.

thestatesman

3. एस एन सुब्रमण्यम

लार्सन एंड टर्बो इंडिया‘ के सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर एस एन सुब्रमण्यम को 2022 के फ़ाइनेंशियल ईयर में 61.27 करोड़ रुपए की सैलरी मिली थी. उन्होंने NIT कुरुक्षेत्र से अपनी सिविल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन पूरी की थी. इसके बाद उन्होंने पुणे के सिमबायोसिस इंस्टिट्यूट ऑफ़ बिज़नेस मैनेजमेंट से अपना एमबीए किया. इसके बाद उन्होंने लंदन बिज़नेस स्कूल से एक एग्जीक्यूटिव मैनेजमेंट प्रोग्राम भी किया था.  

financialexpress

4. C.P. गुरनानी 

टेक महिंद्रा के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ सीपी गुरनानी भी इस लिस्ट में शामिल हैं. उन्हें 2021-22 के फ़ाइनेंशियल ईयर में 63.4 करोड़ रुपए मिले थे. उन्होंने अपनी बैचलर की डिग्री इंजिनियरिंग में ओडिशा के NIT राउरकेला से पूरी की है. उन्होंने टेक महिंद्रा के 18 साल से अधिक वर्षों तक काम किया है. 

techmahindra

5. राजेश गोपीनाथन

TCS के सीईओ राजेश गोपीनाथन को कंपनी की सालाना फ़ाइनेंशियल रिपोर्ट के मुताबिक 25.75 करोड़ रुपए मिले थे. उनके पास NIT तिरुचिरापल्ली से इंजीनियरिंग की बैचलर डिग्री है. इसके साथ ही वो आईआईएम अहमदाबाद से PGDM की डिग्री हासिल कर चुके हैं. 

ये भी पढ़ें: Highest Paid CEOs: 7 CEOs की इतनी है सैलरी, जिनके आगे अपनी सात जन्म की कमाई भी कम पड़ जाए

6. सुरेश नारायण

सुरेश नारायण नेस्ले इंडिया के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर हैं. उन्हें 2021 में अपने पे पैकेज में 18.8 करोड़ सैलरी के रूप में 9 प्रतिशत का उछाल मिला. उन्होंने श्रीराम कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स से इकोनॉमिक्स ऑनर्स किया है. इसके बाद उन्होंने दिल्ली स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स से इकोनॉमिक्स में मास्टर्स किया है. उनके पास कार्यकारी विकास के लिए IMD प्रोग्राम से डिप्लोमा है और उन्होंने लंदन बिजनेस स्कूल के नेस्ले लीडरशिप प्रोग्राम में भाग लिया है.

fortuneindia

7. संजीव मेहता 

संजीव मेहता हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर हैं. उन्हें पिछले साल 22 करोड़ रुपए की सैलरी मिली थी. वो एक चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं और उन्होंने हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल से एक एडवांस्ड मैनेजमेंट प्रोग्राम किया है. 

Indian CEO Educational Qualification
businesstoday