Man Made Fruits And Vegetables: हम सभी को फल (Fruits) और सब्ज़ियां काफ़ी पसंद होती हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया में नेचुरल तरीक़े से उगाए जाने वाले फलों और सब्ज़ियों से ज़्यादा इंसान द्वारा बनाए गए फल और सब्ज़ियां हैं? बेहतर चीज़ खाने की इच्छा या कमिटमेंट होना स्वाभाविक है. ये एक हेल्दी लाइफ़स्टाइल जीने का पहला क़दम भी है. हालांकि, हमें क्या खाना है, इसे जाने बिना ये लाइफ़स्टाइल जीना आसान नहीं है. आजकल हर कोई जानना चाहता है कि फल और सब्ज़ियां कहां से आते हैं. हम में से काफ़ी लोगों को लगता है कि ये पेड़-पौधों से उगाए जाते हैं, लेकिन इस मामले में आप ग़लत हैं. 

आइए आपको उन फ़लों और सब्ज़ियों के बारे में बताते हैं, जो वास्तव में इंसानों (Man Made Fruits And Vegetables) द्वारा बनाए गए हैं. 

fruits and vegetables
Source: healthline

Man Made Fruits And Vegetables

1. केला 

ये फल एक क्रॉस ब्रीड है. मूंगफ़ली के जैसे ही ये भी मैन-मेड है. क़रीब 10,000 साल पहले सिर्फ़ दो जंगली केलों की प्रजाति हुआ करती थीं. इनको Musa Acuminata Musa Balbisiana कहा जाता था. इनमें से एक का मीठा और टफ़ फ्लेश हुआ करता था, जिसमें बहुत सारे बीज भी थे. वहीं, दूसरा अंदर से मुलायम था, लेकिन इसका स्वाद बेहद ख़राब था. इसके बाद साउथ एशिया में कुछ किसानों ने इन दोनों पौधों को मॉडर्न Banana बनाने के लिए क्रॉस ब्रीड कर दिया. उसमें बस एक दिक्कत थी. केलों में कोई बीज नहीं होते हैं. जल्द ही ये पता चला कि नए पेड़ों को अंकुरित करने के लिए अंकुरों को फिर से लगाया जा सकता है. लेकिन इसका मतलब ये भी है कि, अगर हम कभी केलों के पेड़ लगाना छोड़ देंगे, तो वो विलुप्त हो जाएंगे. 

banana
Source: harvard

2. चकोतरा

चकोतरा (Grapefruit) पहली बार 1963 में दिखाई दिया था. ये कई सब्ज़ियों और फलों की तरह प्राचीन नहीं है. कप्तान शैडोक नाम का एक आदमी इंडोनेशिया से चकोतरे के बीज लेकर आया था. उसने इसे अपने संतरे के फलों के पास लगा दिया था. ये अनजाने में क्रॉसब्रीड हो गया और इसने मॉडर्न ग्रेपफ्रूट क्रिएट कर दिया. क्या आप जानते हैं 19वीं सदी तक चकोतरे को शैडोक कहा जाता था?

grapefruit
Source: healthiersteps

ये भी पढ़ें: ज़मीन पर उगने वाली सब्ज़ी खाई होगी, क्या कभी बिजली, जंगल की आग और बर्फ़ से उगने वाली सब्ज़ी खाई है?

3. संतरा

संतरे कई प्रकार और फॉर्म में आते हैं. उनकी आज के समय में कई वैरायटीज़ हैं. क्या आप जानते हैं कि संतरे 'चिपटी नारंगी और चकोतरे' के क्रॉस ब्रीड हैं? हालांकि, ज़्यादातर लोग ऐसा सोचते हैं, चिपटी नारंगी संतरा नहीं है. ये संतरे से नहीं आई है. लेकिन ये वास्तव में संतरे का पूर्वज है. संतरे की उत्पत्ति आज तक स्पष्ट नहीं है. आमतौर पर ये माना जाता है कि ये दक्षिणी चीन और पूर्व इंडोचीन से आया था. इसको मीठे चिपटी नारंगी के साथ कड़वे चकोतरे से मिलाया गया था, जिस वजह से इस खट्टे-मीठे फल का निर्माण हुआ. 

orange
Source: wikipedia

Man Made Fruits And Vegetables

4. गाजर

इस बात पर यकीन करना काफ़ी मुश्किल होगा कि जिस गाजर को आज हम देखते हैं, वो नैचुरल गाजर की तरह बिल्कुल नहीं लगती हैं. वो ऑरेंज नहीं थीं. ये गाजर पीली गाजर से निकली है. गाजर का सबसे पुराना पूर्वज 10वीं शताब्दी में फ़ारस का है. कुछ ऐतिहासिक जानकारी के अनुसार, प्राकृतिक गाजर या तो बैंगनी या सफ़ेद होती हैं और उनकी जड़ें छोटी होती हैं. फ़ारसियों ने इनको क्रॉस ब्रीड किया था. ये जानी-मानी सब्जियां धीरे-धीरे पीले से नारंगी रंग में विकसित हुई थी. आज भी किसान गाजर को उनके कलर, साइज़ और फ़्लेवर को इम्प्रूव करने के लिए ब्रीड करते हैं.

carrot
Source: localfarmbox

Man Made Fruits And Vegetables

5. गोभी

मानव निर्मित कई फल और सब्ज़ियां पूरी तरह से अलग प्रजातियों से आई हैं. उदाहरण के तौर पर 2500 साल पहले खाने के लिए जंगली सरसों को उगाया गया था. ग्रीक और रोमन ने सरसों को बड़े पत्तों के साथ लगाने पर ध्यान केंद्रित किया. इसने बाद में केल और कोलार्ड साग बनाया. सेलेक्टिव ब्रीडिंग ने गोभी का लुक उस रूप में चेंज किया, जिन्हें आज हम जानते हैं. जिन लोगों ने बड़ी पत्तियों वाली सब्ज़ियां लगाईं, उन्होंने पहली पत्ता गोभी का आविष्कार किया.

cabbage
Source: goodhousekeeping

Man Made Fruits And Vegetables

6. स्ट्रॉबेरीज़

18वीं सदी के दौरान, मॉडर्न स्ट्रॉबेरीज़ फ़्रांस में डेवलप की गई थीं. उन्हें नैचुरल जंगली स्ट्रॉबेरीज़ से बनाया गया था. ये प्रजाति उससे थोड़ी छोटी थी और इसका टेस्ट मीठा था. सन 1300 के दौरान लोगों ने क्लोनिंग के ज़रिए बड़ी स्ट्रॉबेरीज़ उगाने का प्रयास किया. हालांकि, सदियों तक ये प्रयास असफ़ल रहा. साल 1784 में फ्रेंच वनस्पतिशास्त्री Antoine Nicolas Duchesne ने एक मेल Fragaria Moschata को फ़ीमेल Fragaria Chiloensis से ब्रीड किया था. अमरीकी और ब्रिटिश वनस्पतिशास्त्री ने मॉडर्न स्ट्रॉबेरी को सिद्ध किया. अब ये पौधा इसके प्राकृतिक पूर्वज से 20 गुना ज़्यादा बड़ा है. 

strawberries
Source: extension.colostate

7. मक्का

ये मैन-मेड फल और सब्ज़ियों का हिस्सा नहीं है, लेकिन इसे भी लिस्ट में कुछ वजहों से आना चाहिए. मॉडर्न मक्का अपने पूर्वज की तरह बिल्कुल भी नहीं लगता है. ये शुरुआत में एक पाइनकोन जैसा लगता था. सेंट्रल मेक्सिको के किसानों के बिना मॉडर्न मक्का मौजूद नहीं होता. मक्का का पूर्वज लगभग 9,000 साल पहले Teosinte नामक जंगली घास के रूप में जाना जाता था. ऐसा माना जाता है कि मेक्सिको की तेहुआकान घाटी में लोगों ने सबसे पहले इस पौधे को पालतू बनाया था. ओल्मेक और माया ने सदियों तक मक्का की खेती की. जैसे-जैसे खेती जारी रही, मक्के का आकार बढ़ता गया, जिसे हम आज जानते हैं.

corn
Source: healthline

ये भी पढ़ें: गुच्छी: हिमालय से आने वाली वो सब्ज़ी जिसकी 1 किलो की क़ीमत हज़ारों रुपये है

8. ब्रोकली

मिनी पेड़ जैसी दिखने वाली ये सब्ज़ी शुरुआत में रोमन साम्राज्य के दौरान खाई जाती थी. इसका इतिहास 2,000 सालों से भी ज़्यादा पुराना है. आज अक्सर हम ये सुनते हैं कि ब्रोकली सेहत के लिए अच्छी होती है. ये इसलिए क्यूंकि ये पोषक तत्वों से भरी होती है. ब्रोकली जंगली में अपने आप बढ़ने में सक्षम नहीं है. इसको जंगली गोभी Brassica Oleracea की सेलेक्टिव ब्रीडिंग से डेवलप किया गया था. 

broccoli
Source: heartofwellness

Man Made Fruits And Vegetables

9. टमाटर

टमाटर 500 BC से भी पहले के हैं. वे दक्षिणी अमेरिका के मूल निवासी हैं. 500 BC की शुरुआत में एज्टेक टमाटरों को पका कर खाते थे. उस दौरान ये अपने मॉडर्न वर्ज़न से काफ़ी अलग दिखते थे. वो छोटे थे और पीले आकार के थे. बाद में 16वीं सदी में एक स्पेनिश व्यक्ति टमाटरों को यूरोप लेकर आया. यहां से वो ब्रिटेन, चीन और इटली में फ़ैले. आज हम जो लाल टमाटर खाते हैं, वो मध्य 20वीं सदी तक वजूद में नहीं आए थे. मॉडर्न टमाटरों को मानव द्वारा निर्मित किया गया था, ताकि उनका बेहतर स्वाद मिल सके. 

tomato
Source: growfully

10. खीरा

3,000 सालों से वजूद में रहने वाले खीरे जिन्हें हम आज जानते हैं, वो भी मानव निर्मित हाइब्रिड हैं. ऐसा माना जाता है कि खीरे की उत्पत्ति भारत में हुई है. इसे एक जंगली पेड़ से ब्रीड किया गया था. ये जंगली खीरे आज भी मौजूद हैं. रोमनों ने रणनीतिक रूप से खीरे की खेती की, जिससे उन्हें उस आकार में बदलने में मदद मिली जो वे अब हैं. इसके पेड़ को यूरोप में पेश किया गया था, जहां इसे अंग्रेज़ी, फ्रेंच और स्पेनिश ने ब्रीड करना जारी रखा. इसकी आज भी कई वैरायटीज़ हैं. 

cucumber
Source: allaboutgardening

ये तो बिल्कुल नई बात पता चली है.