आज के समय में एयरप्लेन (Airplane) से ट्रैवल करना काफ़ी प्रतिशत लोगों के लिए आम बात हो गई है. आए दिन लोग अपना समय बचाने के लिए प्लेन से ट्रैवल करते हैं. भारत में कई Private Airlines हैं, जो पिछले कई सालों से हिंदुस्तानियों को एयर ट्रैवल की सेवा प्रदान कर रही हैं. इनमें से कुछ कंगाल होने की स्थिति में हैं, तो कुछ अपने शुरुआती दिनों से आज के समय तक सफलतापूर्वक चल रही हैं. 

आइए आपको आज हम भारत की 5 सबसे पुरानी एयरलाइंस (Airlines) के बारे में बता देते हैं, जिनके बारे में आपने अपने माता-पिता या दादा-दादी को भी बात करते हुए सुना होगा. 

1. जेट एयरवेज़

जेट एयरवेज़ एक इंडियन इंटरनेशनल एयरलाइन है, जिसे 1993 में लॉन्च किया गया था. जिस दिन इस एयरलाइन ने ऑपरेट करना शुरू किया था, उसी दिन से इसके तरक़्‍की के दिनों की शुरुआत हो गई थी. इस विमान कंपनी के पीक टाइम के दौरान इसने एक दिन में क़रीब 600 उड़ानें भी भरी हैं. इसके अलावा इंटरनेशनल फ़्लाइट्स की सूची में भी इस एयरलाइंस को काफ़ी सक्सेसफ़ुल एयरलाइन्स में से एक कहा जाता है. इसने 2019 में अपनी सेवा बंद कर दी थी, लेकिन लगभग 3 सालों बाद ये फिर से आसमान में उड़ान भरने के लिए तैयार है. इसे 20 मई 2022 को अपना एयर ऑपरेटर सर्टिफ़िकेट मिल गया था. 

cntraveller

2. एयर इंडिया

एयर इंडिया के मालिक बिज़नेस टाइकून जेआरडी टाटा हैं. ये इंडियन की पहली कमर्शियल एयरलाइन है, जिसकी जर्नी की शुरुआत 1932 में हुई थी. इसका पहले नाम टाटा एयरलाइन्स था, जिसे 1946 में बदलकर एयर इंडिया रख लिया गया. अब टाटा ग्रुप ने फिर से एयर इंडिया का कंट्रोल हासिल कर लिया है. इस एयरलाइन की यात्रा को शुरू हुए अब क़रीबन 90 साल बीत चुके हैं.

ये भी पढ़ें: प्लेन के टेकऑफ़ और लैंडिंग के समय लाइट्स धीमी की जाती है, जानना चाहते हो ऐसा क्यों होता है?

3. ModiLuft

ModiLuft ने मई 1993 में लॉन्च होने के तीन महीने बाद जर्मन कंपनी Lufthansa की पार्टनरशिप के साथ अपना परिचालन शुरू किया था. दिल्ली की ये एयरलाइन 1996 तक घरेलू फ़्लाइट्स का संचालन कर रही थी. Lufthansa के सपोर्ट से Modiluft एक सफल एयरलाइन बन गई थी, जो अपनी फ़्लाइट सेफ़्टी, उम्दा प्रदर्शन, अच्छी मेंटेनेंस और समय की पाबंदी के लिए जानी जाती थी. लेकिन पार्टनरशिप में खटास आने की वजह से इस एयरलाइन्स को बंद कर दिया गया. 

twitter

4. जेट लाइट

जेट लाइट जेट एयरवेज़ की कम लागत वाली सहायक कंपनी थी. इसको पहले एयर सहारा के नाम से जाना जाता था. इसको ख़रीदने के बाद जेट एयरवेज़ ने इसका नाम जेट लाइट रख दिया. इसने दिसंबर 1993 में 200 उड़ानों के साथ उड़ान भरना शुरू किया था. लेकिन 17 अप्रैल 2019 को इस एयरलाइंस ने अपनी सभी विमान सेवाएं बंद कर दी थीं. 

livemint

5. डेक्कन एयरवेज़

डेक्कन एयरवेज़ की सितंबर 1945 में ख़ोज की गई थी और इसने अपना संचालन जुलाई 1946 से शुरू किया था. इस एयरलाइन के मालिक टाटा एयरलाइन्स और हैदराबाद के निज़ाम थे. हैदराबाद में बेगमपेट हवाई अड्डे पर स्थित, इस एयरलाइन ने केवल कुछ सालों के लिए परिचालन जारी रखा. इसने 1953 में अपना परिचालन समाप्त कर दिया था.

ये भी पढ़ें: जानिए हवाई यात्रा के दौरान ‘फ़ाउंटेन पेन’ ले जाने की इजाज़त क्यों नहीं दी जाती है?

ये एयरलाइंस काफ़ी सालों पुरानी हैं.