हम सब चाहते हैं कि हर कोई सुरक्षित रहे, लेकिन ज़िंदगी में मुसीबतें बताकर नहीं आती हैं. कभी-कभी यही मुसीबतें जानलेवा भी साबित होती हैं. मसलन, भूकम्प में कोई मलबे के नीचे दब जाए या किसी की कारण बाढ़ के बीच फंस जाए, तो क्या किया जा सकता है? समुद्री क्षेत्रों में कई लोग अक्सर तूफ़ान की चपेट में भी आ जाते हैं. ऐसे में बेहतर यही होता है कि हम सभी ऐसी परिस्थियों के लिए पहले से ही तैयार रहें.

यही वजह है कि हम आज आपको कुछ ऐसी चीज़ें बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से आप ऐसी किसी भी परिस्थिती में ख़ुद की जान बचा पाएंगे.

1. अग़र कभी मलबे के नीचे दब जाएं तो क्या करें?

buried in rubble
Source: boredpanda

ऐसा कई बार होता है कि भूकम्प वगैरह आने पर या बिल्डिंग कमज़ोर होने से वो गिर जाती है. ऐसे में जो लोग उसके मलबे के नीचे दब जाते हैं, वो चिल्लाने लगते हैं. ऐसा नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे आप केवल अपनी एनर्ज़ी ही ज़ाया करेंगे और आवाज़ भी बैठ जाएगी. इसके बजाय आप अपने पास पड़ी किसी भी चीज़ पर तीन बार टैप करें और ऐसा कुछ-कुछ देर में करते रहें. दरअसल, इंसान किसी भी पैटर्न को जल्दी नोटिस कर लेते हैं. एक बार जब कोई आपके टैप करने की आवाज़ सुनकर पास आए, फिर मदद के लिए आवाज़ लगाएं.

ये भी पढ़ें: इन 10 देसी नुस्ख़ों को अपना कर कोरोना से बचाव कर रहे हो, तो ग़लती कर रहे हो

2. टॉरनेडो या बवंडर जब एक जगह ठहरा हुआ लगे

tornado
Source: boredpanda

टॉरनेडो या बवंडर हवा का गोलाकार घूमने वाला तेज वेग वाला तूफ़ान है. ये काफ़ी तेज़ी से आगे बढ़ते हैं, और बेहद शक्तिशाली होते हैं. इनके रास्ते में आने वाली कोई भी चीज़ सही-सलामत नहीं बचती. अग़र इन्हें देखकर आपको कभी लगे कि ये हिल-डुल नहीं रहे हैं, तो समझ लीजिएगा कि ये आपकी ही ओर बढ़ रहे हैं. ऐसे में जितना जल्दी हो सके, वहां से निकल जाएं. 

3. मॉडर्न बैगपैक्स में होती है बेहद काम की चीज़.

whistle
Source: boredpanda

जो लोग लंबी यात्रा या कैम्पिंग के शौक़ीन होते हैं, उनके लिए सीटी बहुत काम आती है. मसलन, कभी दूर खड़े किसी साथी को आवाज़ लगानी हो या फिर कभी खो जाएं, तो ख़ुद की लोकेशन बताने में ये काफ़ी मदद करती है. हालांकि, अग़र आप सीटी ले जाना भूल गए हों, तब क्या करें. चिंता करने की कोई बात नहीं है. क्योंकि जो मॉडर्न बैगपैक्स आते हैं, उनमें सीटी भी लगी होती है. 

4. समुद्र तट पर ख़तरे का पता कैसे चलेगा?

tsunami
Source: boredpanda

अग़र आप समुद्र तट पर हैं और आपको पानी कम होता हुआ या फिर सामान्य दिनों से दूर नज़र आ रहा हो, तो तुरंत वहां से भाग लें. क्योंकि आम तौर पर इसका मतलब है कि सुनामी आने वाली है. 2004 की सुनामी में एक शख़्स ने इसी तरह अपनी जान बचाई थी. 

5. अग़र पानी में चौकोर लहरें आएं नज़र

square waves
Source: boredpanda

आपको कभी भी पानी में चौकोर लहरें बहती दिखें, तो वहां से निकल आएं. क्योंकि इन तरंगों में पानी के नीचे बेहद शक्तिशाली धाराएं होती हैं, जो आपको बहाकर दूर ले जा सकती हैं.

6. अग़र कार कभी पानी में फंस जाए

car goes into water
Source: boredpanda

कई बार ऐसा होता है कि लोगों की कार नदी में गिर जाती है या फिर बाढ़ में वो अपनी कार समेत फंस जाते हैं. ऐसे वक़्त में तुरंत अपनी कार के खिड़की-दरवाज़े खोल लें. क्योंकि अग़र एक बार पानी ज़्यादा बढ़ गया तो वो इतना दबाव बना देगा कि आपको कार से निकलने का मौका नहीं मिलेगा. 

7. रिप करंट में सीधे तैरने की कोशिश न करें

rip current
Source: boredpanda

पानी में रिप करंट के चपेट में अग़र आप आ जाएं, तो सीधे तैरने की कोशिश न करें. ये बेहद मज़बूत प्रवाह होता है, जो आपको किनारे से दूर ले जाता है. सीधे तैरने की कोशिश में आप इसमें फंसते ही जाएंगे. ऐसे में अग़र बाहर निकलना है, तो साइड से तैरना शुरू करें. इससे आप धीरे-धीरे पानी से बाहर आ जाएंगे.

8. ठंडे पानी में गिर जाएं, तो क्या करें?

hypothermia
Source: boredpanda

अगर कोई ठंडे पानी में गिर जाता है और हाइपोथर्मिया के करीब है, तो उसे सीधे आग के पास न बैठा दें. क्योंकि ऐसा करना बेहद ख़तरनाक होगा. आपको चाहिए कि उसे धीरे-धीरे गर्म करने की कोशिश करें. दरअसल, शरीर में रक्त प्रवाह तापमान में तुरंत आए इस उतार-चढ़ाव को बर्दाश्त नहीं कर पाता है. 

9. किसी प्राकृतिक आपदा के आने से पहले क्या करें?

natural disasters
Source: boredpanda

आपको मालूम पड़ता है कि कोई प्राकृतिक आपदा आने ही वाली है, तो तुरंत अपने घर पर पानी स्टोर कर लें. FDA के अनुसार, बड़ी आपदाओं के बाद, पानी या तो कट जाता है या अत्यधिक दूषित हो जाता है. ऐसे में आपके पास साफ़ पानी पहले से स्टोर होना चाहिए.

10. जब सही आकार की बैटरी न हो

aluminum foil
Source: boredpanda

अग़र हम कहीं दूसरी जगह पर हैं  और हमारे पास सही आकार के सेल या बैटरी नहीं है, तो आप छोटी आकार की बैटरी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. बाकी जो खाली जगह बचे आप उसमें एल्युनियम फॉयल भर सकते हैंं. दरअसल,एल्युमिनियम फॉयल से बिजली ट्रांसफर होगी और काम हो जाएगा.