अकसर प्रेमी अपनी प्रेमिका को शादी के लिए घुटनों के बल बैठकर ही प्रपोज (Propose) करता है. आपके किसी दोस्त या रिश्तेदार ने भी शायद कभी ऐसा किया होगा, उस वक़्त आपके दिमाग़ में भी सवाल उठा होगा कि आख़िर क्यों घुटनों के बल ही प्रपोज किया जाता है?  

theplunge

साथ ही आप ये सोचते होंगे कि किस घुटने (Knee) पर बैठकर लड़की को प्रपोज किया जाता है? इन सारे सवालों का जवाब हम लेकर आए हैं. चलिए मिलकर जानते हैं प्रपोज करने के इस दिलचस्प तरीके के बारे में…

एक घुटने के बल बैठकर ही क्यों किया जाता है प्रपोज (Propose)?

heidigarcia

वैसे इस ट्रेडिशन का कोई लिखित साक्ष्य तो मौजूद नहीं है लेकिन जानकारों का मानना है कि ये परंपरा मध्ययुगीन काल से शुरू हुई थी. उस दौर में महान योद्धा अपने घुटनों के बल बैठकर किसी महिला को शादी का प्रस्ताव देते थे. उस समय की कई पेंटिंग्स में इसकी झलक दिखाई देती है. घुटनों के बल बैठकर आप किसी के प्रति अपने विनम्र प्रेम को दर्शा सकते थे.

ये भी पढ़ें: शादी की इन तस्वीरों में Photobombs ने ऐसा कमाल किया कि लोगों का हंसते-हंसते बुरा हाल हो गया 

proposal

ये होने वाले जीवनसाथी के प्रति सम्मान का स्तर दर्शाता है. साथ ही ये बताता है कि उनकी लाइफ़ की डोर अब उनके हाथ में है. ऐसा ईश्वर के समक्ष भी किया जाता था, जब भी किसी को उनके प्रति अपने प्रेम और आदर को दिखाना होता था. 

किस घुटने के बल बैठ प्रपोज करना चाहिए?

theknot

आमतौर पर उल्टे यानी बाएं घुटने के बल बैठ प्रपोज करने का ट्रेडिशन है. ऐसा इसलिए क्योंकि ज़्यादातर लोग इस मुद्रा में सहज महसूस करते थे. इस तरह उन्हें रिंग बॉक्स खोलने में भी आसानी होती थी. आप चाहें तो सीधे पैर के बल भी बैठकर प्रपोज कर सकते हैं. इससे कोई अनहोनी नहीं होने वाली. अगर आप नहीं चाहते कि आप घुटनों के बल बैठ प्रेमिका को प्रपोज करें तो इसका भी उपाय है.

YouTube

आप अपनी प्रेमिका के बगल में बैठकर उससे उसका हाथ मांग सकते हैं और फिर धीरे से उसकी लवर रिंग फ़िंगर में अंगूठी पहना कर प्रपोज कर सकते हैं. चलते-चलते आपको प्रपोजल से जुड़ी एक रोचक जानकारी भी दिए देते हैं. वो ये कि 29 फरवरी के दिन महिलाएं भी पुरुषों को प्रपोज कर सकती हैं.