World's Richest Village: जब हम किसी गांव की बात करते हैं, तो दिमाग़ में सबसे पहले खपड़ैल के बने कच्चे घर, कच्ची सड़कें, कच्चे मकान, चारों तरफ़ गाय और गोबर, तालाब, खेत, किसान और खेतों में खेलते बच्चे आते हैं. मगर चीन में एक ऐसा गांव है, जहां गांव जैसा कुछ नहीं है. इस गांव ने शहरों को पीछे छोड़ दिया है. यहां लोग लाखों कमाते हैं और इस गांव को दुनिया के सबसे अमीर गांव में शूमार किया जाता है. 

World's Richest Village
Source: independent

ये भी पढ़ें: बनलेखी गांव : एक ऐसा ख़ूबसूरत और मिस्ट्री गांव, जो आज भी गूगल मैप की पहुंच दूर है

World's Richest Village

ये गांव चीन के जिआंगसू (Jiangsu) राज्य में स्थित वाक्शी गांव (Huaxi Village) है, जिसे चीन का सबसे अमीर गांव (World's Richest Village) माना जाता है. यहां के स्थानीय लोगों की लाइफ़स्टाइल शहरों में रहने वाले बड़े-बड़े रईसों के जैसी है या कहें कि उनसे भी ज़्यादा बेहतर है. आइए इस गांव की ख़ासियत के बारे में जानते हैं: 

World's Richest Village
Source: caixin

ये भी पढ़ें: Twin Town: केरला का ऐसा गांव जहां पैदा होते हैं केवल जुड़वा बच्चे, इसका कारण आज तक राज़ है

लग्ज़री सुविधाओं से भरपूर

चीन के इस अमीर गांव की सुविधाएं देखकर आप शहरों को भूल जाएंगे. इस गांव में 72 मंज़िला स्काईस्कैपर, हेलीकॉप्टर टेक्सिस, थीम पार्क और लग्ज़री विला हैं. इसके चलते इसे सुपर विलेज भी कहते हैं. 

World's Richest Village
Source: reutersmedia

हर शख़्स के बैंक में 1 करोड़ से ज़्यादा जमा है

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस गांव में 2,000 रजिस्टर्ड निवासी रहते हैं, जिनमें हर एक के पास 1 करोड़ 10 लाख रुपये से ज़्यादा है. यहां पर हर शख़्स विला में रहता है, जो एक से ही बने हैं और लग्ज़री कारों से चलते हैं.

World's Richest Village
Source: cloudfront

स्थानीय सचिव वू रेनाबो की मेहनत है

कम्युनिस्ट पार्टी के स्थानीय सचिव वू रेनाबो ने इस गांव को यहां तक पहुंचाने में कड़ी मेहनत की है. यहां पर स्टील और शिपिंग बड़ी कंपनियां हैं. तो वहीं, सड़कें लोगों को आकर्षित करती हैं. पहले ये गांव इतना अमीर नहीं था, लेकिन सचिव जी की लगन ने इसे इस मकाम पर पहुंचा दिया है.

World's Richest Village
Source: telugustop

कृषि प्रधान गांव है

ये गांव एक कृषि प्रधान गांव है, जिसे किसानों के एक प्रतिभाशाली आइडिया ने दुनिया के अमीर गांवों में शामिल कर दिया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ये गांव 60 के दशक में बसा था और तभी से सभी लोग सामूहिक खेती करने लगे थे. 21वीं सदी की शुरुआत तक यहां 100 से अधिक कंपनियां हो गईं, जिनमें लोहा, इस्पात और तंबाकू कंपनियां शामिल हैं.

World's Richest Village
Source: tripadvisor

तस्वीरों में गांव की ख़ूबसूरती और भव्यता को देखा जा सकता है.