भूत-प्रेत की कहानियां सुनने में बेशक बड़ी ही रोचक लगती हों, पर जैसे ही अंधेरे से भरे सुनसान रास्ते पर अकेले जाना पड़ जाए, तो अपने आप ही सारी सिट्टी-पिट्टी गुम हो जाती है. ख़ैर, यदि आपको लगता है कि आप उन लोगों में से है, जिनके सिर पर ऐसी कहानियों को तलाशने का जुनून सवार है. ख़ुद आप भी ऐसी जगहों की खोज करते रहते हैं, तो आज हम आपको दुनिया की कुछ ऐसी जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो धरती की सबसे भूतहा जगहें मानी जाती हैं.

Eastern State Penitentiary

1829 में अमेरिका के Philadelphia में Eastern State सुधारगृह का निर्माण किया गया था. इस सुधारगृह में भेजा जाना काले पानी की सज़ा से कम नहीं था. यहां खाने-पीने से ले कर हर बच्चे के लिए अलग कोठरी की व्यवस्था की गई थी. इस जगह की गोपनीयता बनाये रखने के लिए जब किसी अपराधी को छोड़ा जाता था, तो उसके सिर को काले कपड़े से ढक दिया जाता था.

यहां आये अपराधियों को सुधारने के लिए उन्हें तरह-तरह की यातनाएं दी जाती थीं, जिसकी वजह से जेल में कई अपराधियों के मौत की ख़बर भी सामने आई. 1913 में अपराधियों को सज़ा देने के लिए एक ख़ास तरह की 'पेंसिल्वेनिया प्रणाली' को इजाद किया गया, जिसमें अपराधियों को बर्फ़ के ठंडे पानी से नहाने के अलावा लोहे की गर्म सलाखों को शरीर गोदने जैसी सज़ाएं दी जाती थी. कहा जाता है 1940 के बाद इस जेल में अजीबो गरीब घटनाएं होने लगी. आये दिन अचानक से असमान्य घटनाएं होने लगी, जिसके बाद माना जाने लगा कि इस जेल पर रूहों ने कब्ज़ा कर लिया. आज भी लोगों को यहां से चिखने-चिल्लाने की आवाज़ें सुनाई देती हैं. 1971 में ऐसी ही घटनाओं की वजह से इस जेल में ताला लगा दिया गया, जिसके बाद से इसे कभी खोला नहीं गया.

Waverly Hills Sanatorium

1910 में Waverly Hills Sanatorium का निर्माण दो कमरे वाले लकड़ी के हॉस्पिटल के रूप में किया गया था. 1926 में इस हॉस्पिटल का जीर्णोद्धार कर पक्का किया गया. 20वीं सदी की शुरुआत में यहां टीबी से पीड़ित लोगों का इलाज किया जाता था. कहा जाता है कि टीबी का इलाज ढूंढने के लिए यहां लोगों पर कई प्रयोग किये गए, जिनमें करीब 63 हज़ार लोगों की मौतें हुई. टीबी के डर से मौत के बाद परिवार वाले अपने परिजनों की लाशें लेकर नहीं जाते थे, जिसकी वजह से यहां हर दिन कई और लाशें इकट्ठा होने लगी. इन लाशों को ठिकाना लगाने के लिए इन्हें पास की ही एक कोयला खान में भेजा जाने लगा.

Ghost Adventures, Ghost Hunters के मुताबिक, ये जगह अमेरिका की सबसे डरावनी जगहों में से एक है. यहां अचानक कई जगहों पर हवाएं गर्म, तो कहीं ठंडी हो जाती है. सीढ़ियों से भीड़ के चलने और कई सारे लोगों की एक साथ चीख भी सुनाई देती है.

Monte Cristo Homestead

ऑस्ट्रेलिया के साउथ वेल्स के Junee में बना Monte Cristo Homestead असल में एक प्राइवेट प्रॉपर्टी का हिस्सा थी, जिसे इसके मालिक ने 1885 में बनवाना शुरू किया था. 1948 में ये बिल्डिंग बनकर पूरी तरह तैयार हो गई थी. इस बिल्डिंग के निर्माण के समय से ही यहां मौतों का सिलसिला शुरू हो गया था. सबसे पहले मालिक के बेटे की सीढ़ियों से गिरकर मौत हो गई थी, तो वहीं रहस्यमयी परिस्थितियों में नौकरानी बालकनी से नीचे गिर कर मर गई थी. इसी के साथ कहा जाता है कि यहां लड़के की आग में जल कर मौत हो गई थी.

Harold नाम का दिमागी रूप से बीमार एक व्यक्ति करीब 40 वर्षों तक इस घर का केयरटेकर रहा था, पर उसकी मां की मौत के बाद उसे हॉस्पिटल भेज दिया गया, जहां उसकी भी मौत हो गई.

Castle of Good Hope

17वीं सदी की शुरुआत में Castle of Good Hope का निर्माण Dutch East India Company ने साउथ अफ्रीका के Cape Town में करवाया था. ये उस समय यहां से गुज़रने वाले जहाज़ों के लिए एक आरामगाह की तरह था, जहां से सामानों की अदला-बदली भी की जाती थी.

1915 में इस Castle के साथ एक कहानी जुड़ी कि इसकी दीवार से कूदकर आत्महत्या कर ली थी. कई वर्षों तक सब सामान्य था, पर 1947 में वहीं लोगों को एक आदमी फिर से दीवार से कूदता हुआ दिखाई दिया. इसके बाद हर शाम लोगों वो आदमी कभी दीवारों पर चलता हुआ, तो कभी दोबारा कूदता दिखाई देना लगा.

The Tower of London

आज टावर ऑफ़ लंदन इस शहर की पहचान बन चुका है. इसका इतिहास लगभग 1,000 साल पुराना है, पर कभी इस इमारत को अत्याचार और ख़ौफ़नाक सज़ा देने के लिए पहचाहना जाता था. इस इमारत में फांसी, हत्‍या और अत्‍याचारों की ऐसी-ऐसी वारदातें हुई हैं कि इसकी दीवारों में आज भी मौत की उन चींखों को आसानी से महसूस किया जाता है.

इस इमारत का निर्माण सन 1078 में विलियम ने कराया था. इस इमारत को बनवाने में फ्रांस से बेशकिमती पत्‍थरों को मंगवाया गया था. कुछ सालों तक ये ब्रिटेन का शाही महल भी था, जहां बंदियों को भी रखा जाता था. इस इमारत के बारे में कहा जाता है कि यहां King Henry VII की पत्नी Anne Boleyn का भूत भटकता है, जिनकी हत्या 1536 में कर दी गई थी.

Ancient Ram Inn

Ancient Ram Inn को इंग्‍लैंड का सबसे भयानक घर कहा जाता है. ये बंगला ग्‍लोस्‍टरशॉयर में स्‍थित है, जिसे 1145 में किसी ने जादुई घटनाओं को अंजाम देने के लिए बनवाया था. कहा जाता है कि यहां काली ताक़तों को पाने के लिए बच्चों की बलि तक दी गई थी. लोगों का कहना है कि रात के समय यहां से लोगों के चीखने-चिल्लाने के साथ ही उनके खाने-पीने की आवाज़ें आती हैं.

Halifax Citadel

Halifax Citadel को कनाडा की सबसे डरावनी जगहों में गिना जाता है. इस किले को सितारे के आकार का 1749 में Citadel Hill पर बनवाया गया था, जबकि इसकी नींव 300 साल पहले ही रख दी गई थी. 1856 में इसे दोबारा बनवाया गया. इस किले के बारे में आगंतुकों का कहना है कि कई लोगों ने यहां आईने में एक बूढ़ी औरत और लाल चोगे में एक आदमी को देखा है.

कई लोगों का कहना है कि जब वो किले के अंदर गए, तो अचानक बाहर का दरवाजा बंद हो गया और फर्नीचर अपने-आप हिलने लगे.

Banff Springs Hotel

कैनेडियन पैसिफिक रेलवे द्वारा इस होटल का निर्माण 125 सालों पहले करवाया गया था. इस ख़ूबसूरत होटल के बारे में लोगों का कहना है कि ये देश की सबसे डरावनी जगहों में से एक है.

कहा जाता है कि यहां एक लड़की शादी करने के लिए आई हुई थी, पर उसके कपड़ों में आग लग गई थी, जिससे बचने के लिए वो भाग रही थी कि सीढ़ियों से गिरकर उसकी मौत हो गई थी. लोगों को वही लड़की यहां आग के साथ डांस करती हुई दिखाई देती है.

वहीं कुछ स्थानीय लोगों का कहना है कि होटल के रूम नंबर 873 में एक परिवार की हत्या कर दी गई थी, जिसके बाद वो परिवार यहां भटकता हुआ दिखाई देता है.

Chateau de Brissac

Chateau de Brissac का निर्माण 11वीं सदी में Counts of Anjou द्वारा कराया था. Charles II ने 1502 में इस बिल्डिंग का दोबारा निर्माण कराया और उन्होंने इसे Duke of Brissac का नाम दिया. इस महल की गिनती फ्रांस के सबसे ऊंचे महलों में होती है.

15वीं सदी के दौरान इस महल में Château de Brissac और la Dame Verte की हत्या कर दी गई थी. यहां आने वाले लोगों का कहना है कि Chateau de Brissac की तुलना में la Dame Verte का भूत लोगों को ज़्यादा परेशान करता है. वो हरे कपड़े पहनकर घूमती है ऐसा लगता है जैसे आप कहीं भी जा रहे हों वो आपको घूर रही हों.

सुरक्षा की दृष्टि से इस महल को शाम होने से पहले से बंद कर दिया जाता है.

Borgvattnet

Borgvattnet असल में उत्तरी स्वीडन के Jämtland नाम के गांव बना एक छोटा सा घर है. इसका निर्माण 1876 के आस-पास कराया गया था. इसे स्वीडन के सबसे डरावने घरों में गिना जाता है.

इस घर के डरावने होने की शिकायत सबसे पहले 1927 में Nils Hedlund ने की थी. उनका कहना था कि यहां बहुत कुछ अजीबोगरीब है, जो पैरानॉर्मल है. 1930 के समय यहां रहने वाले प्रीस्ट Rudolf Tangden ने यहां एक बूढ़ी औरत को देखा, जो अंधेरे में कपड़े बदलने की कोशिश कर रही थी. Rudolf ने जब उनका पीछा करना शुरू किया, तो वो उनकी आंखों के सामने ही गायब हो गई.

हालांकि, इस बिल्डिंग के निर्माताओं ने इसे अब एक रेस्टोरेंट का रूप दे दिया है, पर शाम होने से पहले ही ये बंद हो जाता है.

Babenhausen Barracks

इस बिल्डिंग को फ़िलहाल एक म्यूज़ियम के रूप में बदल दिया गया है, पर लोगों का कहना है कि यहां World War II में मारे गए जर्मन सैनिकों का भूत दिखाई देता है. यहां अपने आप ही लाइट बंद हो जाती हैं, जबकि बिल्डिंग के बेसमेंट से आधी रात को सिपाहियों के जूतों की आवाज़ें सुनाई देती हैं. कहा जाता है कि दूसरे विश्व युद्ध के समय यहां बहुत से जर्मन सिपाहियों को मार दिया गया था.

Lawang Sewu

Lawang Sewu का अर्थ हज़ारों दरवाजे होता है. 1917 इसका निर्माण Dutch East Indian Railway Company द्वारा कराया गया था. दूसरे विश्व युद्ध के समय इस जगह पर जापानी सेना ने कब्ज़ा कर लिया था, जिसके बाद उन्होंने इसका इस्तेमाल एक जेल के रूप में किया था. यहां लोगों पर बहुत से ज़ुल्म किये गए और हज़ारों लोगों को मारा गया. 1945 के अक्टूबर में Dutch सेना ने इसे दोबारा अपने अधिकार में फिर से इसका निर्माण कराया.

Lawang Sewu को इंडोनेशिया की सबसे भुतहा जगहों में गिना जाता है. कहा जाता है कि एक टीवी प्रोग्राम के लिए फ़िल्माते हुए एक Dutch महिला ने यहां आत्महत्या भी कर ली थी. स्थानीय लोगों का कहना है कि ये जगह देखने में बेशक ख़ूबसूरत लगती है, पर यहां आये दिन पैरानॉर्मल घटनाएं होती रहती हैं.

Poveglia Island

इटली के Poveglia Island को ‘आइलैंड ऑफ़ डेड’ के नाम से भी जाना जाता है. इसके बारे में कहा जाता है कि यहां जाने वाला कभी जिंदा लौट कर नहीं आया. इस आइलैंड के बारे में कहा है कि सैकड़ों साल पहले इस आइलैंड पर प्लेग के मरीजों को मरने के लिए ला कर छोड़ दिया जाता था और जो यहां मर जाते थे, उन्हें यहीं दफना दिया जाता था. जब मरीजों की संख्या बढ़ने लगी, तो करीब 1 लाख 60 हज़ार लोगों को जिंदा जला दिया गया था, जिसके बाद लोग इस जगह को भुतहा मानने लगे और ये आइलैंड पूरी तरह से वीरान हो गया.

Doll Island

डॉल्स भले ही आपको प्यारी लगती हों, पर मैक्सिको के Doll Island को देखकर आप इनसे नफ़रत करने लगेंगे. La Isla de la Munecas नाम का ये डॉल्स आइलैंड असल में एक फ़्लोटिंग गार्डन है, जिसे मैक्सिको में चिनमपा कहते हैं. इस पर सैकड़ों की संख्या में डरावनी और टूटी-फूटी डॉल्स लटकी हुई हैं.

इस आइलैंड के बारे में कहा जाता है कि सैन्टाना बर्रेरा नाम का एक शख़्स अपने परिवार को छोड़ कर इस आइलैंड पर आया था. इस आइलैंड पर आने के कुछ दिन बाद एक परिवार इस आइलैंड की तरफ़ आया, जो मौज-मस्ती कर ही रहा था कि एक दुर्घटना हो गई, जिसमें एक बच्ची कई डूबने से मौत हो गई. उसके डूबने के कुछ दिनों बाद सैन्टाना को एक गुड़िया तैरती हुई दिखाई दी. उन्होंने उस गुड़िया को बच्ची की आत्मा माना और उसे एक पेड़ से टांग दिया. धीरे-धीरे सैन्टाना को जो भी गुड़िया दिखाई देती वो उसे पेड़ से टांग देते. इसके पीछे सैन्टाना का विश्वास था कि इससे बच्ची की आत्मा को शांति मिलेगी और वो उन्हें तंग नहीं करेगी, पर यहां इतनी सारी गुड़िया जमा हो गई कि लोग इसे Doll Island कहने लगे. लोगों का कहना है कि Doll Island जाने पर ऐसा लगता है जैसे गुड़िया आपके कान में फुसफुसा रही हों, जो बहुत ही डरावना होता है.

Edinburgh Castle

स्कॉटलैंड में बनी Edinburgh Castle लोह युग की कला का अद्भुत नमूना है, पर बहुत से लोगों का मानना है कि ये धरती की सबसे ख़ौफ़नाक जगहों में से एक है. युद्ध के समय यहां बड़ी तादाद में लोगों का कत्ल किया गया था.

फ़िलहाल इसे एक टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में तब्दील कर दिया गया है, पर लोगों का कहना है कि यहां घूमने के दौरान उन्हें किसी के द्वारा खींचने का एहसास होता है. कुछ लोगों ने यहां बिना सिर के एक लड़के को दौड़ते हुए देखा है, जो सुरंग में जा कर गायब हो जाता है.

Akershus fortress

1300 साल पहले Akershus किले का निर्माण नॉर्वे के Oslo में करवाया गया था. 18वीं से 19वीं सदी के दौरान नाज़ी सेना द्वारा इस किले का इस्तेमाल एक जेल के रूप में किया गया, जहां उन्होंने ज़ुल्मों की नई कहानियां लिखीं.

Akershus Castle के बारे में कहा जाता है कि ये नॉर्वे की सबसे डरावनी जगहों में से है, जहां भूतों की रखवाली Malcanisen नाम का एक अदृश्य कुत्ता करता है. इस कुत्ते के बारे में कहा जाता है कि वैसे यह कुत्ता दिखाई नहीं देता, पर जो भी इसे देख लेता है उसकी तीन महीनों में मौत हो जाती है.

Old Changi Hospital

इस अस्‍पताल को 1930 में नार्थवन रोड के किनारे चंगी गांव के पास बनाया गया था, इसीलिए इसका नाम चंगी अस्‍पताल पड़ा. द्वितीय विश्‍व युद्व के दौरान इस हॉस्पिटल का इस्तेमाल मिलीट्री अस्‍पताल के रूप में होता था, जिस पर जापानियों ने अपना अधिकार जमा लिया था. द्वितीय विश्‍व युद्व के समय हज़ारों की संख्‍या में जापानी सैनिक इस अस्‍पताल में इलाज के लिए लाये गये थे, पर उस समय यहां उपचार के पर्याप्‍त साधन मौजूद नहीं थे, जिस वजह से हज़ारों की संख्‍या में जवानों की मौत होने लगी. लगातार हो रही मौतों की वजह से यहां एक भयानक बीमारी ने जन्‍म ले लिया, जो अस्‍पताल के स्‍टाफ और दूसरे लोगों में भी फैल गयी.

लगातार हो र‍ही मौतों की वजह से इस अस्‍पताल को मनहूस कहा गया. कहा जाता है कि अस्‍पताल में मरे जवानों की रूहें आज भी यहां भटकती हैं.

St. Augustine Lighthouse

फ़्लोरिडा के St. Augustine में इस लाइट हाउस का दोबारा निर्माण 1974 में करवाया गया था. ये उन लाइट होउसेज़ में से एक है, जो आज भी बखूबी काम कर रहे हैं. इस लाइट हाउस के बारे में कहा जाता है कि 1870 में इसके कंस्ट्रक्शन इनचार्ज Hezekiah Pittee की दो बेटियों की हत्या हो गई थी, जिनकी आत्माएं आज भी यहां भटकती हैं. कहा जाता है कि उनकी दोनों बेटियां रात के समय टावर पर चलती हुई दिखाई देती हैं. इसके अलावा एक औरत के रोने की आवाज़ यहां अकसर सुनाई देती रहती है.

Queen Mary Hotel

कैलिफोर्निया का Queen Mary Hotel असल में एक विशाल जहाज़ है, जो लांग बीच हारर्बर पर खड़ा है. इस जहाज़ का नाम किंग जार्ज पंचम की पत्‍नी मैरी ऑफ़ टेक के नाम पर रखा गया था. इस जहाज़ का निर्माण 1931 में शुरू किया गया था, 1934 में बनाकर तैयार हुआ था. ये अपने समय का सबसे विशाल जहाज़ था, जो 1,000 फ़ीट लम्‍बा था.

इस जहाज़ पर यात्रा करने के लिए लोगों को लम्बा इंतज़ार करना पड़ता था. एक बार यात्रा के दौरान ये जहाज़ अपना रास्‍ता भटक गया. जहाज़ को वापिस अपने रास्ते पर लाने के लिए चरु मेंबर में हड़बड़ी हो गई, जिसकी वजह से जल्‍दबाजी में लाइनरों को बदल दिया गया. इससे जहाज़ के 300 से ज़्यादा क्रू मौत का शिकार हो गए. ये हादसा जहाज़ के निचले हिस्‍से में हुआ था, जहां इंजन का लगा हुआ था. आज भी इस जहाज़ के कई क्षेत्रों को प्रतिबंधित किया गया हुआ है. यहां काम करने वाले लोगों का कहना है कि उन्हें आज भी क्रू मेंबर्स की चीखें सुनाई देती है. इसके अलांवा कई बार मशीन अपने आप ही शुरू हो जाती है.

The White House

इस लिस्ट में दुनिया के सबसे ताक़तवर देश अमेरिका के राष्ट्रपति का निवास स्थान वाइट हाउस भी शामिल है. कहा जाता है कि ये भूत किसी और का नहीं, बल्कि अमेरिका के 16वें राष्‍ट्रपति अब्राहम लिंकन का भूत है. उनके भूत को लोग व्‍हाइट हाउस घोस्‍ट के नाम से भी जानते हैं.

वाइट हाउस में काम करने वालों के मुताबिक, पूर्व राष्‍ट्रपतियों ने भी लिंकन के बेडरूम से कभी चलने, तो कभी बात करने की आवाजें सुनी हैं. ब्रिटेन के पूर्व पीएम विंस्‍टन चर्चिल का तो यहां तक कहना था कि एक बार वाइट हाउस में उनके रुकने के दौरान उन्होंने लिंकन के कमरे आग जलते हुए देखा था. इसके साथ ही उनका कहना था कि लिंकन भी उसी जगह पर खड़े थे और उन्होंने लिंकन को मुस्‍कुराते हुए देखा था, जो थोड़ी देर बाद गायब हो गए थे.

Source: hauntedrooms