महाराष्ट्र सरकार ने राज्य रिज़र्व पुलिस बल (SRPF) में पहली बार महिला बटालियन की भर्ती करने का फ़ैसला लिया है. सूबे में पहली महिला बटालियन नागपुर जिले के कटोल में शुरू की जाएगी, जिसमें 1400 महिलाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा.

Source: indiatimes

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा, ‘राज्य की पहली महिला बटालियन नागपुर जिले के कटोल में शुरू की जाएगी, जिसमें 1400 युवतियों को प्रशिक्षित किया जाएगा. इसके लिए 100 एकड़ जमीन की जरूरत पड़ेगी.’

दरअसल, राज्य में कानून-व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए पुलिस विभाग में 10 हज़ार कॉन्स्टेबलों की भर्ती का निर्णय लिया गया है.

बताया गया कि तीन चरणों में संपन्न होने वाली इस भर्ती प्रक्रिया में 1,384 से ज़्यादा पोस्ट महिला बटालियन में बनेंगी. साथ ही उनके प्रशिक्षण के लिए 100 एकड़ में ट्रेनिंग एकेडमी बनाई जाएगी. राज्य के डिप्टी सीएम अजीत पवार ने अधिकारियों को एक साल के अंदर भर्ती प्रक्रिया को पूरा करने के निर्देश दिए हैं.

Source: thelivenagpur

लैंगिक समानता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मार्च में महिला बटालियन बनाने का एलान किया गया था. ये फ़ैसला महिलाओं के ख़िलाफ़ हिंसा से जुड़े मामलों से निपटने और उन्हें बेहतर सुरक्षा मुहैया कराने में बल की मदद करेगा.

बता दें, SRPF की स्थापना विशेष सशस्त्र बल के तौर पर छह मार्च,1948 को हुई थी. इसमें सिर्फ़ पुरुषों का वर्चस्व है और इसकी अब तक एक भी ऐसी बटालियन नहीं है जिसमें सिर्फ़ महिलाएं हों.