भारत के दिवालिया हो चुके बिज़नेसमैन, अनिल अंबानी ने भले ही अपनी कुल संपत्ति शून्य बताई हो लेकिन भारतीय बैंक ये बात स्वीकार नहीं कर रहे हैं. 

Business Insider की एक रिपोर्ट की मानें तो भारत के तीन बैंकों ने अनिल अंबानी की 3 कंपनी के अकाउंट्स को फ़्रॉडुलेंट घोषित कर सकते हैं. ये तीन बैंक हैं- स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (एसबीआई), यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया (यूबीईआई) और इंडिया ओवरसीज़ बैंक (आईओबी). 

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया भारत के सबसे बड़े मनी लेंडिंग बैंक में से एक है. 

ये तीन बैंकों अनिल अंबानी की तीन कंपनी- रिलायंस कम्युनिकेशन्स, रिलायंस इन्फ़्राटेल और रिलायंस टेलिकॉम के अकाउंट्स ट्रांजे़क्शन्स की उच्च-स्तरीय जांच शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं. 


स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया और रिलायंस की तरफ़ से फ़िल्हाल मामले पर कोई बयान नहीं आया है. 

Source: Deccan Herald

हर्षद मेहता स्कैम का ख़ुलासा करने वालीं सुचेता दलाल ने भी कल देर रात ट्विटर पर ये सवाल उठाया कि क्या कोई अंदाज़ा लगा सकता है कि भारत का सबसे बड़ा कॉरपोरेट डिफ़ॉल्टर कौन है? जिस पर भारत सरकार ने अब तक कोई एक्शन नहीं लिया. 

सुचेता दलाल ने कई ट्वीट्स किए लेकिन अंबानी का नाम नहीं लिखा. कई ट्विटर यूज़र्स ने अनिल अंबानी का नाम Guess किया. 

ट्विटर की प्रतिक्रिया-