छत्तीसगढ़ के जशपुर ज़िले में बिजली गिरने से तीन लोग उसकी चपेट में आ गये. ये लोग शायद ज़िंदा भी बच जाते. पर कुछ ग्रामीणों के देसी इलाज ने इनकी ज़िंदगी छीन ली. 

Lighting
Source: ecmwf

रिपोर्ट के मुताबिक, घटना बीते रविवार शाम की है. एक महिला समेत तीन लोग बिजली की चपेट में आकर झुलस गये थे. ग्रामीणों ने देसी इलाज करते हुए पीड़ितों को गाय के गोबर से दबा दिया. कुछ ग्रामीणों के विरोध के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर्स ने दो लोगों को मृत घोषित कर दिया. 

Cow dunk
Source: huffingtonpost

बताया जा रहा है कि तीनों जशपुर ज़िले के बागबहार गांव में धान के खेतों में खेती कर रहे थे. उप-विभागीय अधिकारी राजेंद्र परिहार का कहना है कि तेज़ बारिश और आंधी के चलते तीनों पेड़ के नीचे जाकर खड़े हो गये थे. इस दौरान अचानक गिरी बिजली की वजह से तीनों घायल हो गये. घायलों को अस्पताल लेने के बजाये घरवालों और ग्रामीणों ने अंधविश्वास के चलते उन्हें गाय के गोबर से दबा दिया. 

Cow Dunk
Source: IndiaTimes

ग्रामीणों का कहना है कि गाय के गोबर में जलन की चोट सही करने की पॉवर होती है. लापरवाही की वजह से सुनील साई (22) और चंपा राउत (20) की मौत हो गई. वहीं तीसरे व्यक्ति का इलाज चल रहा है. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और पीड़ित परिवार को मुआवज़ा दिया जाएगा. 

News के और आर्टिकल्स पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.