कश्मीर के सोपोर में हुए मुठभेड़ से एक दिल दहला देने वाली तस्वीर सामने आई है.

इस तस्वीर में 3 साल का एक बच्चा गोलियों से छलनी और खून से सने अपने दादा के शव के पास बैठा है, जिनकी मौत की वजह बस इतनी है कि वो दोनों आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच हो रही मुठभेड़ वाली जगह के पास से गुजर रहे थे और क्रॉस-फ़ायरिंग की ज़द में आ गए.  

Source: India Today

बुधवार सुबह जैसे ही आतंकवादियों ने गोलाबारी की, सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की, उसी वक़्त लड़का और उसके दादा उसी इलाक़े से गुजर रहे थे. 60 वर्षीय इस शख्स को दो गोली लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई. इस सब से हतप्रभ बच्चा अपने दादा के खून से लथपथ शरीर के पास रोता रहा.

जैसे ही एक पुलिस पार्टी सोपोर में घटनास्थल पर पहुंची, उन्होंने बच्चे को बचाया. 

बच्चा अपने दादा की लाश के पास बहुत रो रहा था. एक पुलिस वाले ने बच्चे को अपनी गोद में उठा लिया और उसे मुठभेड़ स्थल से दूर ले गया

Source: India TV

मुठभेड़ वाली जगह से जो दिल दहला देने वाली तस्वीरें आई हैं उसमें बच्चे को सड़क पर पड़े अपने मृत दादा को जगाने की कोशिश करते हुए देखा जा सकता है. एक अन्य तस्वीर में अपनी पोजीशन लिए एक जवान को लड़के को भाग कर शरण लेने के लिए बुलाता हुआ देखा जा सकता है.  

आम नागरिक के अलावा मुठभेड़ में CRPF का एक जवान भी शहीद हो गया, जबकि तीन अन्य जवान घायल हो गए. ये मुठभेड़ जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले के सोपोर कस्बे में हुई है.