देश में कोरोना वायरस का ख़तरा अभी भी बना हुआ है. कई राज्य बुरी तरह इस ख़तरनाक वायरस की चपेट में हैं. ऐसे में भारत के उत्तर-पूर्व से बड़ी राहत की ख़बर सामने आई है. केंद्रीय मंत्री डॉ. जीतेंद्र सिंह ने जानकारी दी है कि यहां आठ राज्यों में से पांच पूरी तरह कोरोना मुक्त हो गए हैं. 

Source: deccanherald

उन्होंने बताया कि सिक्किम, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर और त्रिपुरा अब कोरोना संकट से आज़ाद हो गए हैं. 

डॉ. सिंह ने कहा, ‘असम, मेघालय और मिज़ोरम अभी कोरोना मुक्त नहीं हुए हैं. हालांकि, इन तीनों राज्यों में कुछ दिनों से कोरोना को कोई नया मामला सामने नहीं आया है.’ 

बता दें, असम में 10, मेघायल में 11 और मिज़ोरम में महज़ 1 कोरोना वायरस का एक्टिव केस है. 

Source: deccanherald

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यहां कोरोना के कम केस सामने आने का सबसे बड़ा कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लीडरशिप है. पिछले छह सालों में उत्तर-पूर्व के विकास पर सरकार ने सबसे ज़्यादा ध्यान दिया है. 

‘इस आपातकाल के दौरान भी एयर कार्गो चालू था, आवश्यक वस्तुओं की कोई कमी नहीं होने दी गई. 30 मार्च से, आपूर्ति एयर इंडिया और भारतीय वायु सेना के माध्यम से इस क्षेत्र में पहुंचती रही. ये प्रधानमंत्री मोदी का निर्देश था कि पूर्वोत्तर, जम्मू और कश्मीर, लद्दाख और देश के द्वीप क्षेत्रों को प्राथमिकता दी जाए.’ 

Source: elpasoinc

उन्होंने आगे कहा कि, ‘सभी आठ पूर्वोत्तर राज्यों में सरकारों ने कड़ी मेहनत की है और इस संकट के दौरान केंद्र के साथ सहयोग किया है. शिलांग में स्थित पूर्वोत्तर विकास परिषद ने इस अवधि के दौरान बेहतर समन्वय बनाए रखा.’ 

साथ ही सरकार ने लॉकडाउन से पहले ही पूर्वोत्तर राज्यों में कोरोना से संबंधित गतिविधियों के लिए शुरुआती चरण के तौर पर 25 करोड़ रुपये की व्यवस्था की थी.