कानपुर के एक शेल्टर होम में बीते 4 दिनों में 57 लड़कियां कोविड-19 पॉज़िटिव पाई गई हैं.

Indian Express की एक रिपोर्ट के अनुसार, कोविड-19 पॉज़िटिव पाई गईं लड़कियों में 5 लड़कियां गर्भवती हैं. एक Class IV महिला कर्मचारी भी कोविड-19 पॉज़िटिव पाई गई.   

Source: Times of India

गर्भवती लड़कियों में एक लड़की को HIV पॉज़िटिव, और एक को हेपाटाइटिस सी है.

कानपुर के ज़िलाधिकारी, ब्रह्मदेव राम तिवारी का कहना कि है ये लड़कियां शेल्टर होम में आने से पहले ही गर्भवती थीं. ये लड़कियां, आगरा, इटाह, कनौज, फ़िरोज़ाबाद और कानपुर से हैं.   

डिप्टी चीफ़ प्रोबेशन ऑफ़िसर, श्रुति शुक्ला ने कहा,

'गर्भवती लड़कियां POCSO के अंतर्गत आने वाले अपराधों की सर्वाइर हैं. इनमें से 2 लड़कियां दिसंबर में शेल्टर होम आई थीं. वे अभी 8 महीने की गर्भवती हैं.'  

Source: Dainik Jagran

कोविड-19 के फैलने की ख़बर तब मिली जब शेल्टर होम में रह रही एक लड़की की बीते 12 जून को रैंडम सैम्पलिंग टेस्टिंग की गई. इसके बाद शेल्टर होम की सभी 171 लड़कियों का टेस्ट किया गया और बीते 4 दिनों में 57 पॉज़िटिव केस पाये गये. पॉज़िटिव पाई गईं लड़कियों की उम्र 15-17 के बीच है.


इस शेल्टर होम में 10 से 18 तक के उम्र की लड़कियां डिस्ट्रिक्ट चाइल्ड वेलफ़ेयर कमिटी के निर्देश पर रहती हैं.