बुधवार को उत्तर प्रदेश के शिक्षा विभाग ने 60 शिक्षकों को नौकरी पाने के लिए फर्ज़ी बी.एड की डिग्री उपयोग करने की वजह से निलंबित कर दिया.

Source: The News Minute(Representational Image)

डिस्ट्रिक बेसिक शिक्षा अधिकारी चंद्रशेखर ने कहा कि मथुरा से किसी अन्य ज़िले में ट्रांसफ़र किये गए सभी पुराने शिक्षकों के ऊपर भी क़ानूनी कार्यवाई की जाएगी.

अधिकारी ने यह भी कहा कि पूरे राज्य में 4,500 सरकारी शिक्षकों ने बी.एड या किसी अन्य फर्ज़ी डिग्री का इस्तेमाल कर नौकरी हासिल की है. पूरे मामले की तेज़ी से जांच चल रही है.

अलग-अलग ज़िलों के शिक्षा अधिकारी वैसे शिक्षकों की पहचान कर रहे हैं, जिन्होंने नौकरी पाने के लिए फर्ज़ीवाड़ा किया है. चंद्रशेखर ने यह भी आशंका जताई की फर्ज़ी शिक्षकों की संख्या में बढ़ोत्तरी भी हो सकती है.