इस दुनिया में कई अजीब और रहस्यमयी जगहें मौजूद हैं. कुछ तो बेहद भयानक हैं. मगर आज हम जिस जगह के बारे में आपको बताने जा रहे हैं, उसके ख़ौफ़नाक इतिहास से शायद ही आप परिचित हों. इस जगह को 'फ़्रेंच कैटकोम्ज़' (french catacombs) कहते हैं. फ़्रांस के पेरिस में स्थित ये वो जगह हैं, जहां क़रीब 60 लाख डेड बॉडीज़ को संजोया गया है.

french catacombs
Source: thetourguy

जब मुर्दों के लिए नहीं बची शहर में जगह

पेरिस कैटकोम्ज़ का इतिहास अठारहवीं शताब्दी के अंत में शुरू होता है. ये वो वक़्त था, जब शहर में मुर्दों को दफ़नाने के लिए जगह तक नहीं बची थी. साल 1785 में यहां इतनी मौते हुईं कि इन्हें किसी दूसरे श्मशान में दफ़नाया नहीं जा सकता था. 

Source: pinterest

हालत ये हो गई कि एक बार लगातार बारिश में लाशें कब्रिस्तान से निकलकर सड़कों पर आ गईं. ऐसे में उस वक़्त इस स्थिति को बदलने के लिए शवों को एक सुरंग में डाला जाने लगा. एक ही कब्र में दूसरी जगहों से लाकर शव भरे जाने लगे. देखते ही देखते यहां क़रीब 60 लाख लाशें जमा कर दी गईं.

ये भी पढ़ें: दुनिया की एकलौती ज़मीन जिस पर कोई भी देश अपना दावा नहीं करना चाहता, मगर क्यों?

लोग इसे 'कब्रों का तहखाना' बुलाते हैं

Paris Municipal Ossuary
Source: outlookindia

फ़्रेंच कैटकोम्ज़ में क़रीब 60 लाख लोगों को दफ़नाया गया था. इस जगह को मुर्दों की हड्डियों ओर खोपड़ियों से क़रीब 2.2 किलोमीटर लंबी दीवार के सहारे बनाया गया है. पेरिस में ज़मीन से 20 मीटर गहराई में स्थित इस ख़ौफ़नाक जगह को लोग 'कब्रों का तहखाना' बुलाते हैं. 

अब टूरिस्ट भी आते हैं यहां घूमने

ststworld
Source: ststworld

ये जगह अब पर्यटकों के लिए खुली है. यहां बहुत से टूरिस्ट हर साल घूमने आते हैं. मुर्दों की हड्डियों ओर खोपड़ियों से बनी क़रीब 2.2 किलोमीटर लंबी दीवार के बीच में घूमना एक रोंगटे खड़े कर देने वाला एहसास देता है. हालांकि, ऐसा कहा जाता है कि इस पूरी सुरंग को आज भी पर्यटकों के लिए नहीं खोला गया है. क़रीब 800 हेक्टेयर में फैली इस सुरंग के कुछ हिस्से लोगों के घूमने के लिए हैं. साथ ही, इस जगह पर सिर्फ़ वयस्क ही लोग घूमने आ सकते हैं. एक अनुमान के मुताबिक, हर साल यहां क़रीब 5 लाख टूरिस्ट आते हैं.

empire of death
Source: outlookindia

बता दें, ये जगह ख़ौफ़नाक के साथ महत्वपूर्ण ऐतिहासिक और सांस्कृतिक स्थल भी है. दरअसल, जब इस सुरंग में शवों को लाया जा रहा था, उस वक़्त के पहले और बाद के कुछ शिलालेख भी यहां मौजूद है. इनमें कुछ मूर्तियां भी शामिल हैं. सबसे डरावना शिलालेख सुरंग के प्रवेश द्वार पर ही लिखा है, जिसमें कहा गया है कि 'रूको, ये मौत का साम्राज्य है.'