देशभर में इन दिनों बाढ़ का कहर जारी है. देश के कुछ राज्यों में बाढ़ के कारण हालात बेहद ख़राब हो चुके हैं. बाढ़ से सबसे ज़्यादा असम और बिहार प्रभावित हुए हैं.

Source: ndtv

बिहार में बाढ़ से 46 लाख 83 हज़ार से अधिक लोग प्रभावित हो चुके हुए हैं. जबकि असम में आई बाढ़ से अब तक 52 लाख लोग प्रभावित हुए हैं.

Source: ndtv

बिहार :

बिहार के 12 ज़िलों में में जन जीवन एकदम ठप्प हो चुका है. इन 12 ज़िलों में अब तक कुल 67 लोगों की मौत हो चुकी है. सीतामढ़ी में 17, अररिया में 12, मधुबनी में 11, शिवहर में 9, पूर्णिया में 7, दरभंगा में 5, किशनगंज में 4 और सुपौल में 2 लोगों की मौत हो चुकी है.

Source: townsvillebulletin

बाढ़ प्रभावित 12 ज़िलों में कुल 137 राहत शिविर चलाए जा रहे हैं, जहां 1,14,721 लोग शरण लिए हुए हैं. उनके भोजन की व्यवस्था के लिए 1,100 से अधिक सामुदायिक रसोइयां चलाई जा रही हैं. राहत और बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ़ और एसडीआरएफ़ की 26 टीमें लगाई गई हैं. जबकि रेस्क्यू के लिए 125 मोटरबोट्स का इस्तेमाल किया जा रहा है.

Source: ndtv

ताज़ा स्थिति तक भी बिहार की सभी नदियां ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. मौसम विभाग के अनुसार बिहार कई इलाक़ों में आज भी हल्की बारिश की संभावना जतायी गयी है.

असम :

कमोबश यही हाल असम का भी है. यहां अब तक कुल 27 लोगों की मौत हो चुकी है. असम में भयंकर बाढ़ का कहर जारी है. हालात इतने बिगड़ गए हैं, कि लोगों का जीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो चुका है. राज्य के 28 ज़िले बाढ़ से प्रभावित हैं.

Source: indiatoday

असम ही नहीं पूर्वोत्तर के मेघालय और मिज़ोरम भी बाढ़ से बुरी तरह से प्रभवित हैं. मेघालय में करीब 1.3 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हो चुके हैं. जबकि मिज़ोरम में भी 5,000 से ज़्यादा लोग राहत शिविरों में रह रहे हैं.