Drugs यानी नशीले पदार्थ लोगों की ज़िंदगियां बर्बाद करते हैं इसमें किसी कोई शक नहीं है. ऐसे बहुत उदाहरण आए दिन सुनने के मिलते रहते हैं कि फलां आदमी की मौत नशीले पदार्थों के सेवन के कारण हो गई या फिर कोई ड्रग्स के चक्कर में दिवालिया या बर्बाद हो गया.


इसलिए पुलिस और क़ानून भी ड्रग्स की तस्करी करने वालों को कड़ी से कड़ी सज़ा दिलाने के लिए तत्पर रहती है. इसके प्रति देश और विदेश के नारकोटिक्स विभाग ज़ीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हैं. नशीले पदार्थों की अवैध तस्करी को रोकने के लिए वो कई ऐसे उदाहरण भी पेश करते हैं जिससे तस्करों के होश ठिकाने लग सकें.

200 tons of marijuana
Source: gettotext

हाल ही में आंध्र पुलिस ने विशाखापट्टनम (Visakhapatnam) में 850 करोड़ रुपए के गांजे(Cannabis) को जलाकर नष्ट कर दिया. इससे उन्होंने ये संदेश दिया नशीले पदार्थों को समाज में किसी भी तौर पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. अगर ये पदार्थ मिलते भी हैं तो उनका हश्र यही होगा.


अतीत में भी देश और विदेश के पुलिस और नारकोटिक्स विभाग भारी मात्रा में नशीले पदार्थों को जला चुके हैं. चलिए आज जानते हैं ऐसे ही कुछ उदाहरणों के बारे में…   

ये भी पढ़ें: कुवैत में हवा के रास्ते होती है ड्रग्स की तस्करी और ये कोई इंसान नहीं बल्कि कबूतर करते हैं

1. त्रिपुरा पुलिस ने 3.15 करोड़ रुपये का गांजा जलाया 

2019 में त्रिपुरा पुलिस ने अलग-अलग थानों में तस्करों से बरामद 6,300 किलोग्राम गांजा एक जगह एकत्र किया और उसे उच्च अधिकारियों की देख-रेख में जलाकर नष्ट किया था. इस गांजे की क़ीमत क़रीब 3.15 करोड़ रुपये थी.

Tripura Police burns 6,300 kg of marijuana
Source: ani

2. कर्नाटक पुलिस ने जलाई 50 करोड़ रुपये की अवैध ड्रग्स 

कर्नाटक पुलिस ने पिछले साल International Day Against Drug Abuse के मौक़े पर 50 करोड़ रुपये की अवैध ड्रग्स जला कर राख कर दी. इसमें चरस, हिरोइन, ब्राउन शुगर, कोकेन और MDMA आदि शामिल थी. राज्य सरकार ने ऐसा कर बताया कि वहां पर ड्रग्स को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. 

Karnataka police to burn drugs worth Rs 50 crore
Source: thenewsminute

3. असम के चीफ़ मिनिस्टर ने अपने हाथों से जलाई 163 करोड़ रुपये की ड्रग्स 

जून 2021 में असम के चीफ़ मिनिस्टर हिमंता बिस्वा सरमा अपने हाथों से पुलिस द्वारा पकड़ी गई ड्रग्स को आग के हवाले किया. उन्होंने 163 करोड़ रुपये की ड्रग्स को जलाकर तस्करों को संदेश दिया कि राज्य में ड्रग्स के लिए कोई जगह नहीं है. 

assam CM burns illegal drugs
Source: freepressjournal

Drugs 

4. इंडोनेशियन पुलिस ने 3.3 टन ड्रग्स की स्वाहा 

2015 में इंडोनेशिया की पुलिस ने 3.3 टन ड्रग्स को अग्नि के हवाले कर दिया. नशीले पदार्थों को खुले में जलाया गया था. इसे जलाते समय पुलिस वालों ने मास्क पहन रखे थे, लेकिन आस-पास के लोगों को इस बारे में वो जागरूक करना भूल गए. तब कुछ लोगों ने गले में जलन होने और नशा छाने की शिकायत की थी. 

5. Australian Federal Police ने बर्बाद की 500 करोड़ की ड्रग्स 

Australian Federal Police ने नशीले पदार्थों के विनाश करने के कार्यक्रम के तहत दिसंबर 2021 में लगभग 500 करोड़ की ड्रग्स भट्टियों में जला दी. जलाई गई ड्रग्स 20 टन थी जिसे देश के अलग-अलग हिस्सों में जलाया गया था.   

Australian Federal Police
Source: 9news

6. पनामा में एंटी-नारकोटिक्स पुलिस ने जलाई 26 टन ड्रग्स 

पनामा में एंटी-नारकोटिक्स पुलिस ने देश के इतिहास में सबसे बड़े ड्रग्स के जख़ीरे नष्ट किया. उन्होंने 2019 में एक नदी के किनारे 26 टन कोकीन और मारिजुआना को एकत्र कर आग के हवाले कर दिया. 

drugs burnt by police
Source: dailymail

7. Cleveland Police ने जलाए 10 करोड़ रुपये के नशीले पदार्थ 

Cleveland Police ने 2018 में अलग-अलग रेड में पकड़े 10 करोड़ रुपये के नशीले पदार्थ जलाकर खाक कर दिए. पुलिस ने बताया कि ड्रग तस्करी की रिपोर्ट लोगों ने ही दी थी ताकी लोगों को इस लत से छुड़ाया जा सके. 

drugs burnt by police
Source: bbc

8. असम पुलिस ने जलाए 40 करोड़ रुपये के ड्रग्स 

असम को ड्रग्स फ़्री बनाने के लिए वहां पर पुलिस और नारकोटिक्स विभाग ने एक मुहिम छेड़ रखी है. इसके तहत पिछले साल(2021) उन्होंने अलग-अलग रेड में पकड़ी गई क़रीब 40 करोड़ रुपये की ड्रग्स को नष्ट कर दिया. इसमें हिरोइन, गांजा, Yaba की गोलियां और नशीले कफ़ सीरप शामिल थे. 

Drugs worth Rs 40 cr destroyed by Assam Police in Karimgan
Source: ani

नशीले पदार्थों के साथ ऐसा ही होना चाहिए.