लॉकडाउन में देश के अलग-अलग हिस्सों से प्रवासी मज़दूर बिहार पहुंच रहे हैं. उन्हें सरकारी गाइडलाइन्स के मुताबिक 14 दिनों के लिए क्वारन्टीन सेंटर में रखा जा रहा है. बिहार के बक्सर का एक क्वारन्टीन सेंटर इन दिनों सुर्खियों में है, वजह है यहां रह रहा एक युवक. 23 साल के इस युवक की डाइट से क्वारन्टीन सेंटर वाले परेशान हैं. वो एक टाइम में 10 लोगों का खाना खा जाता है.

इस युवक का नाम अनूप ओझा है, ये बक्सर के मंझवारी क्वारन्टीन सेंटर में रह रहा है. मगर इसकी खुराक ने सभी को हैरत में डाल दिया है. वो अकले 10 लोगों का खाना खा जाता है. सुबह के नाश्ते में अनूप 40 रोटी और 10 प्लेट चावल खा जाता है.

A 23-year-old man eats 40 rotis and 10 plates of rice at a quarantine centre
Source: siasat

यही नहीं लिट्टी बनने पर 80 लिट्टी एक दिन में खा लेता है अनूप. उसकी इस डाइट से यहां खाना बनाने वाले शेफ़ भी परेशान हो गए हैं. इसकी शिकायत उन्होंने उच्च अधिकारियों से भी की. क्योंकि इसकी वजह से अन्य लोगों के लिए खाने का इंतज़ाम करना मुश्किल हो रहा है.

A 23-year-old man eats 40 rotis and 10 plates of rice at a quarantine centre
Source: livecities

इलाके के Block Development Officer (BDO) अजय कुमार सिंह मामले की जांच के लिए क्वारन्टीन सेंटर पहुंचे थे. वो भी उनकी डाइट के क़िस्से सुन दंग रह गए. उन्होंने बताया कि अनूप लॉकडाउन से पहले राजस्थान रोज़गार की तलाश में गया था. लॉकडाउन के चौथी बार बढ़ाए जाने पर वो वहां से बिहार वापस लौट आया. वो खरहा टांड पंचायत के रहने वाला है. उसे 10 दिन पहले यहां लाया गया था. अनूप का क्वारन्टीन टाइम ख़त्म होने के बाद उसे उसके घर भेज दिया जाएगा.

A 23-year-old man eats 40 rotis and 10 plates of rice at a quarantine centre
Source: indiatvnews

कई शोध में ये पता चला है कि चिंता के कारण व्यक्ति ओवरइंटिंग मतलब अधिक खाना खाने लगता है. स्ट्रेस में Cortisol हार्मोन अधिक रिलीज़ होने लगता है, जो इंसान को अधिक खाने के लिए उकसाता है. शायद अनूप भी स्ट्रेस के चलते इतना खाने लगा होगा.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.