ज़मीन हड़पने के आपने एक से बढ़कर एक मामले देखे होंगे, लेकिन चेन्नई से एक ऐसा अजीबो-ग़रीब मामला सामने आया है जिसे सुन आपके कान खड़े हो जायेंगे.   

दरअसल, चेन्नई के मदीपक्कम में के. राजमन्नार नाम के एक शख़्स ने मालिक की अनुपस्थिति में न सिर्फ़ उसकी 2,400 वर्ग फ़ीट ज़मीन हड़प ली, बल्कि कुछ ही समय में उस पर 6 मंज़िला बिल्डिंग भी कड़ी कर दी. इसके बाद राजमन्नार ने फ़र्ज़ी कागज़ात बनाकर इसे किसी और को बेच भी दिया. 

ये सब कुछ तब हुआ जब ज़मीन का मालिक काम के सिलसिले में बेंगलुरु गया हुआ था. जब वो वापस लौटा तो अपने एक मंज़िला घर की जगह पर 6 मंज़िला बिल्डिंग देख उसके होश उड़ गए. मालिक नागलिंगमूर्ति की शिक़ायत के बाद पुलिस ने 42 वर्षीय राजमन्नार को गिरफ़्तार कर लिया है.  

Source: indiatimes

पुलिस के मुताबिक़, आरोपी के. राजमन्नार ने ज़मीन हड़पने के बाद उस पर 6 मंज़िला बिल्डिंग बनाकर फ़र्ज़ी तरीक़े से उसे किसी और को बेच दिया था. इस दौरान फ़र्ज़ी दस्तावेज़ को तैयार कर ये ज़मीन का स्वामित्व हस्तांतरित करने में भी कामयाब रहा.  

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक़, इस ज़मीन के असली मालिक नागलिंगमूर्ति ने पुलिस में शिकायत दर्ज की जिसके बाद CCB के एंट्रेंस डॉक्यूमेंट फ़्रॉड (EDF) प्रिवेंशन विंग ने इस मामले में कार्रवाई की. 

Source: indiatimes

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक़, नागलिंगमूर्ति ने ये ज़मीन 1988 में ख़रीदी थी. इसके बाद उन्होंने इस ज़मीन पर एक छोटा सा मकान भी बनाया. मकान बनाने के 6 साल बाद नागलिंगमूर्ति पेशेवर प्रतिबद्धताओं के कारण अपने परिवार के साथ बेंगलुरु शिफ़्ट हो गए. पत्नी की मौत के बाद नागलिंगमूर्ति, मदीपक्कम काम ही आ पाते थे.  

राजमन्नार समेत उसके 3 साथी गिरफ़्तार  

चैन्नई के मलयम्बक्कम निवासी 42 वर्षीय के. राजमन्नार एक निजी बिल्डर के लिए काम करता है. राजमन्नार के अलावा संपत्ति के स्वामित्व के हस्तांतरण में शामिल उसके 3 अन्य साथियों को भी गिरफ़्तार किया गया है. इनमें एम. काजा मोइदीन (32), एम मोहन (46) और जे रामैया (53) हैं. इन तीनों को भी न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.