कोरोना वायरस से बचने के लिए अधिकतर लोग अपने-अपने घरों में बंद हैं. वहीं आपदा की इस घड़ी में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इस वायरस से लोगों को बचाने के लिए दिन-रात एक किए हुए हैं. जैसे डॉक्टर, नर्स, सफ़ाई कर्मचारी आदि. ये समाज के रियल हीरो हैं. आईएएस ऑफ़िसर निकुंज ढल भी उन्हीं में से एक हैं. उन्होंने अपने पिता की मौत के 24 घंटे बाद ही अपनी ड्यूटी जॉइन कर ली, ताकी कोरोना की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों में कोई रुकावट न आए.

निकुंज ढल ओडिशा राज्य के प्रमुख स्वास्थ्य सचिव हैं. वो राज्य में कोरोना की रोकथाम के लिए उठाए जा रहे सभी कदमों और उनकी क्या स्थिति है, इसकी लगातार निगरानी कर रहे हैं. इसी बीच हाल ही में निकुंज के पिता का देहांत हो गया, जिसके बाद निकुंज को अपने घर जाना पड़ा.

Nikunja Dhal IAS
Source: hindustantimes

हालांकि, पिता का अंतिम संस्कार करने के 24 घंटे के अंदर ही वो अपनी ड्यूटी पर वापस लौट आए और उन्होंने फिर से कामकाज संभाल लिया. आईएएस एसोसिएशन ने एक ट्वीट कर उनके इस अदम्य साहस की तारीफ़ की है.

सोशल मीडिया पर भी लोगों ने निकुंज को निजी दुख को परे रख अपनी ज़िम्मेदारी निभाने के लिए ख़ूब सराहा है और प्यार दिया है. आप भी देखिए:

निकुंज ने ट्वीट कर लोगों को इतना प्यार और स्नेह दिखाने के लिए धन्यवाद कहा है.

ओडिशा में कोरोना वायरस से संक्रमित एक मरीज़ की पुष्टी हुई है. इसे देखते हुए प्रदेश सरकार ने सभी संबंधित सरकारी विभागों में अफ़सरों की छुट्टियों को रद्द कर दिया है. ओडिशा सरकार ने एहतियातन कुछ ज़िलों में धारा 144 भी लागू कर दी है.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.