हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा कोरोना वायरस के ख़तरे को देखते हुए देशभर के 773 ज़िलों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन ज़ोन में बांटा गया था. इस दौरान देशभर के 130 ज़िलों को रेड ज़ोन में रखा गया, 284 ज़िलों को ऑरेंज ज़ोन में, जबकि 319 ज़िलों को ग्रीन ज़ोन में गया था.   

Source: thequint

इस बीच ग्रीन ज़ोन में रखे गए कर्नाटक के दावणगेरे ज़िले में रविवार को 1 दिन में 21 कोरोना संक्रमित पाए जाने से ज़िला प्रशासन हैरान है. ये कर्नाटक के किसी भी ज़िले में 1 दिन में सबसे अधिक मामले हैं.  

बताया जा रहा है कि क़रीब 4.35 लाख की आबादी वाले दावणगेरे ज़िले में पिछले क़रीब 1 महीने से कोरोना का कोई मामला सामने नहीं आया था, इसलिए इसे ग्रीन ज़ोन में रखा गया था. इससे पहले दावणगेरे ज़िले में कोरोना के केवल 10 मामले ही सामने आए थे, जिनमें से 2 मरीज़ ठीक हो गए थे जबकि 1 की मौत हो गई थी. 

Source: news18

शुक्रवार को दावणगेरे ज़िले में कोरोना के 94 हाई रिस्क नमूनों को परीक्षण के लिए भेजा गया था, जबकि शनिवार को भी 72 मामले टेस्ट के लिए भेजे गए थे. रविवार को इनमें से 21 मामले पॉज़िटिव पाए गए. इसके बाद रविवार को परीक्षण के लिए 164 नमूने और भेजे गए हैं.  

दरअसल, देशभर के उन ज़िलों को ग्रीन ज़ोन में रखा गया है जो कोरोना वायरस से सबसे कम प्रभावित हुए हैं और जहां पिछले 21 दिनों में कोरोना का कोई नया मामला सामने नहीं आया है.  

Source: indiatvnews

जानकारी दे दें कि कर्नाटक के दावणगेरे ज़िले में कोरोना वायरस का पहला मामला एक सांसद की बेटी के रूप में मिला था. भारत में कोरोना वायरस से पहली मौत भी कर्नाटक में ही हुई थी.  

कर्नाटक में अब तक कोरोना के कुल 614 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 25 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं 293 लोग इस महामारी से ठीक हो चुके हैं. राज्य में कोरोना के अब केवल 295 एक्टिव केस हैं.