होली की शाम को गरुग्राम में एक क्रिकेट मैच के दौरान हुए मामूली विवाद के बाद 20-25 लोगों ने एक मुस्लिम परिवार की लाठी-डंडों से जमकर पिटाई की. इस दौरान आरोपियों ने उन्हें घर छोड़ कर पाकिस्तान जाने की धमकी भी दे डाली.

Source: indiatoday

मामला गरुग्राम के धामसपुर गांव का है, जहां क्रिकेट खेलने को लेकर हुई कहासुनी ने हिंसक संघर्ष का रूप ले लिया. मैदान की ये कहासुनी उस वक़्त घरों तक पहुंच गयी, जब 20-25 लोगों ने मोहम्मद शहज़ाद के घर में धावा बोल दिया. आरोपियों ने घर के सदस्यों की लाठी-डंडों से जमकर पिटाई की. इस दौरान हमलावरों ने घर की महिलाओं को भी नहीं बख़्शा. इस जानलेवा हमले में परिवार के 10 लोग ज़ख़्मी हो गए.

Source: indianexpress

इस दौरान घर के किसी एक सदस्य ने घटना का वीडियो बना लिया था, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

वीडियो में 20 से 25 लड़के एक घर पर पत्थर फेंकते देखे जा रहे हैं. घर में बच्चे होने का हवाला देने के बावजूद आरोपी रुके नहीं. इसके बाद गेट तोड़कर घर में घुसते ही लाठी-डंडों से घर में मौजूद लोगों को पीटने लगे. परिवार की महिलाएं जान बचाने के लिए मिन्नतें कर रही हैं, लेकिन हाथों में डंडे लिए आरोपी उन्हें लगातार मारते-पीटते जा रहे हैं.

वीडियों की शुरुआत में दोनों पक्षों की तरफ़ से ईंट-पत्थर बरसते दिखाई दे रहे हैं. इस मारपीट के दौरान 13 लोग गंभीर रूप से घायल हुए. इसमें एक गुट के 10 लोग, जबकि दूसरे गुट के 3 लोग शामिल हैं. घटना के बाद भारी पुलिस बल तैनात कर दी गयी है, ताकि किसी भी तरह की सामुदायिक हिंसा न भड़के.

Source: indiatoday

पीड़ित युवक दिलशाद ने बताया कि गुरुवार की शाम को वो अपने भाईयों के साथ पास के मैदान में क्रिकेट खेल रहा था. उसी दौरान शराब के नशे में धुत दो लड़के आए और उन्हें पाकिस्तान जाकर क्रिकेट खेलने को कहने लगे. कुछ देर कहासुनी के बाद वो दोनों मारपीट पर उतर आए. जब वो घर लौटे तो कुछ समय बाद वो लड़के 15-20 लड़कों को लेकर आये और घर में घुसकर लाठी, डंडे और तलवार से हमला कर दिया.

भोंड़सी थाना प्रभारी सुरेंद्र कुमार ने बताया कि उन्होंने मारपीट में शामिल कुछ लोगों की पहचान की है. आरोपियों के खिलाफ़ धारा 307 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. अब तक कोई भी पकड़ में नहीं आया है. आरोपियों की तलाश जारी है.