राजनीति है ही ऐसी चीज़ कि उसके लिए नेता कुछ भी करने को तैयार रहते हैं. ऐसा ही एक अनोखा मामला राजस्थान से भी सामने आया है.

राजस्थान कांग्रेस के कार्यकर्ता विनोद जैन ने पार्टी प्रेम के चलते अपने बेटे का नाम ही 'कांग्रेस' रख दिया. नेता जी के इस फैसले को लेकर न सिर्फ़ परिवार वाले बल्कि रिश्तेदार और आस पड़ोस के लोग भी उनकी मज़ाक बना रहे हैं.

Source: jansatta

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, उदयपुर निवासी विनोद जैन राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के मीडिया विभाग में काम करते हैं. विनोद जैन का पूरा परिवार दशकों से कांग्रेस पार्टी से जुड़ा रहा है. इसलिए बच्चे का नाम है कांग्रेस रखना कांग्रेस पार्टी के प्रति उनकी निष्ठा को दर्शाता है.

विनोद जैन का कहना है कि जब मैंने अपने बेटे का नाम 'कांग्रेस' रखा तो परिवार के लोगों ने इसपर ऐतराज जताया, लेकिन इसके बावजूद मैंने बेटे नाम 'कांग्रेस जैन' ही रखा. मेरा बेटा जुलाई 2019 में पैदा हुआ था. बर्थ सर्टिफ़िकेट में भी मैंने उसका नाम कांग्रेस जैन ही रजिस्टर्ड करवाया है.

Source: asianetnews

विनोद जैन का मानना है कि ये उनके बच्चे के लिए उपयुक्त नाम है, क्योंकि उनका पूरा परिवार हमेशा कांग्रेस से जुड़ा रहा है. मेरे लिए सीएम गहलोत प्रेरणा का काम करते हैं. मेरा बेटा भी जब 18 साल का होगा तो वो भी कांग्रेस में राजनीतिक रूप से सक्रिय हो जाएगा. मैं चाहता हूं कि मेरी आने वाली पीढ़ियां पार्टी के प्रति निष्ठा रखें और पीढ़ियों तक इसका पालन करें.

Source: news18

विनोद जैन सबसे पहले कांग्रेस के छात्र संगठन NSUI से जुड़े. इसके बाद वो राजसमंद में ज़िला महासचिव भी रहे. जैन वर्तमान में सीएम गहलोत की डिजिटल टीम के अहम सदस्य हैं, जिसके ज़रिए वो सोशल मीडिया उनके समर्थन में अभियान चला रहे हैं.