मणिपुर की राजधानी इंफ़ाल से आत्मनिर्भर भारत की एक मिसाल सामने आई है. यहां एक महिला ख़ुद के दम पर मशरूम की खेती कर महीने के लाखों रुपये कमा रही हैं. यही नहीं वो दूसरे लोगों को भी रोज़गार प्रदान कर रही हैं. 

इस महिला उद्यमी का नाम राजकुमारी बिनिता देवी. बिनिता जी 50 साल की हैं और वो इंफ़ाल के मोइरंग कम्पू गांव में रहती हैं. यहां वो मशरूम की खेती के ज़रिये हर महीने क़रीब 1.5 लाख रुपये कमा लेती हैं. 

Rajkumari Binita Devi
Source: ifp

बिनिता जी ने इस बारे में बात करते हुए कहा- 'हम यहां 6 तरह के मशरूम उगाते हैं. फिर इसको आचार, चिप्स, कुकीज़ आदि बना कर बेचते हैं. पीक सीज़न में हम 1.5 लाख रुपये महीना कमा भी लेते हैं. हम लोगों को मशरूम की खेती करना भी सिखाते हैं.'

Rajkumari Binita Devi
Source: ifp

बिनिता जी ख़ुद तो आत्मनिर्भर हैं साथ ही साथ दूसरों को भी रोज़गार देती हैं. इनके पास कोरोना काल से पहले 10 लोग काम करते थे. पैंडमिक का असर इनके बिज़नेस पर भी पड़ा. फ़िलहाल इनके यहां दो लोग काम कर रहे हैं. इसके अलावा घर के लोग भी इसमें हाथ बंटाते हैं. 

Rajkumari Binita Devi
Source: twitter

ANI की रिपोर्ट के मुताबिक, इनके मशरूम सेंटर में 6 कमरे हैं. इनके पास एक कोल्ड स्टोरेज़, 2 सोलर ड्रायर, नूडल बनाने की मशीन, बैगिंग मशीन, चैफ़ कटर और ह्यूमिडिफ़ायर भी है. इनका कहना है कि अगर आप एक महीने में 3000 मशरूम के बैग तैयार करते हैं तो 1 लाख रुपये तक का मुनाफा कमाया जा सकता है.

बिनिता देवी जी उन महिलाओं के लिए मिसाल हैं जो अपने दम पर कुछ हासिल करना चाहती हैं.