आज के समय में शिक्षा और बेटी का शिक्षित होना समाज के लिए बहुत ज़रूरी है. शिक्षित बेटी समाज को, परिवार को शिक्षित करने में अहम रोल अदा करती है इसलिए बेटियों की शिक्षा पर पूरा जोर दिया जाना चाहिए.

इस बात को बखूबी समझा है, अफ़ग़ानिस्तान के एक पिता ने.

मिया ख़ान, अफ़ग़ानिस्तान के रहने वाले हैं. ख़ान की तीन बेटियां हैं और वो चाहते हैं कि उन्हें उनके बेटों की तरह ही उचित शिक्षा मिले.

education
Source: facebook

मिया ख़ान अपनी बेटियों को स्कूल ले जाने के लिए रोज़ाना 12 किलोमीटर मोटरसाइकिल से यात्रा करते हैं. फिर स्कूल ख़त्म होने तक वहीं रुक कर उनका इंतज़ार भी करते हैं.

ख़ान की इस कहानी को एक Swedish Committee नामक एक संस्थान ने अपने फ़ेसबुक अकाउंट पर शेयर किया है.

ख़ान की ये कहानी इंटरनेट पर वायरल हो गई. विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर, लोग इस पिता के प्रयासों की प्रशंसा कर रहे हैं.

कुछ ने उन्हें नायक कहा, तो दूसरों ने लिखा कि वो एक प्यार करने वाले पिता हैं. कई लोगों ने उनकी ज़िम्मेदारी की भावना और शिक्षा के महत्व के बारे में उनकी समझ की भी प्रशंसा की.