एयर इंडिया की महिला चालक दल ने इतिहास रच दिया. महिलाओं की कॉकपिट क्रू ने सैन फ़्रैसिस्को से उड़ान भरी और उत्तरी ध्रुव के ऊपर से होते हुए सोमवार सुबह 3:45 बजे बेंगलुरू के केम्पगौड़ा एयरपोर्ट पर लैंडिंग की. 

Source: Twitter

NDTV की रिपोर्ट के अनुसार, इस फ़्लाइट ने 16 हज़ार किलोमीटर की दूरी तय की. बीते शनिवार, को 8 30 बजे (स्थानीय समय) पर फ़्लाइट AI176 ने सैन फ़्रैंसिस्को से उड़ान भरी थी.  


India Today की रिपोर्ट के अनुसार, ये एयर इंडिया की लॉन्गेस्ट डायरेक्ट फ़्लाइट थी. कैप्टन ज़ोया अग्रवाल ने कहा, 

आज हमने विश्व इतिहास रच दिया न सिर्फ़ उत्तरी ध्रुव के ऊपर से उड़ान भरकर बल्कि एक ऑल विमेन पायलेट्स ने सफ़लतापूर्वक ये मक़ाम हासिल किया. हम बेहद ख़ुश हैं और हमें गर्व हैं कि हम इसका हिस्सा रहे. हमारे रूट ने 10 टन फ़्यूल भी बचाया. 

सिविल एविएशन मंत्री, हरदीप पुरी ने भी ट्वीट करके महिलाओं को बधाई दी.  

एयर इंडिया ने भी महिलाओं को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए ट्वीट किया. 

ट्विटर की प्रतिक्रिया-