एक राष्ट्र तभी स्वस्थ माना जाएगा जब वहां के नागरिक का जीवन प्रत्याशा दर ज़्यादा हो. लेकिन जैसी भारत के महानगरों की परिस्थिति है वहां लोगों की सांसें घटती जा रही हैं. दिल्ली का हाल सबको पता है, इस सीज़न में पहली बार मुंबई भी एयर क्वालिटी इंडेक्स(AQI) में 'Poor' श्रेणी में आया है.

Source: Weather

Central Pollution Control Board के आंकड़ों के अनुसार गुरुवार को मुंबई के 10 स्टेशन पर AQI 217 दर्ज किया गया जिसे Poor श्रेणी में रखा जाता है. इससे पहले मुंबई की हवा सबसे ज़्यादा ख़राब 24 मार्च को रही थी, तब AQI 254 था.

Source: Business Today

देश का राजधानी में रहने वालों की हालत तो बद से बद्दतर होती जा रही है. रिपोर्ट्स के अनुसार दिल्ली में सांस लेने वाले व्यक्ति की जीवन प्रत्याशा 17 साल तक कम हो जाने की आशंका है.

इंडिया टुडे के अनुसार दिल्ली वाले वर्तमान में वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन द्वारा निर्धारित सामान्य वायु गुणवत्ता से 25 गुणा ज़्यादा ज़हरीली हवा अपने फेंफड़ों में भर रहे हैं.

Source: NIH

पिछले 20 दिनों में दिल्ली में औसत PM2.5 लेवल 254 दर्ज किया गया जो पिछले साल के इसी वक्त के मुक़ाबले 30 प्वाइंट ज़्यादा है.

हालांकि प्रदूषण का स्तर पूरे साल एक जैसा नहीं रहता. लेकिन बढ़ते दर दिल्ली वालों के लिए बुरे संकेत दे रहे हैं. जिसकी वजह से मृत्यु दर भी बढ़ता जा रहा है.